बरेली: एक दिन में 141.1 मिमी बारिश से बना जुलाई का नया रिकॉर्ड, धूप खिलने से मिली राहत

बरेली: एक दिन में 141.1 मिमी बारिश से बना जुलाई का नया रिकॉर्ड, धूप खिलने से मिली राहत
demo image

बरेली, अमृत विचार। प्रदेश में सोमवार को सबसे अधिक बरेली में 141.1 मिमी बारिश दर्ज की गई। जिले में सबसे अधिक बहेड़ी में 460 मिमी, मीरगंज में 150 और नवाबगंज में 140 मिमी बारिश दर्ज की गई। इसके अलावा जुलाई में एक दिन में सबसे अधिक बारिश का भी रिकार्ड टूट गया। हालांकि दोपहर बाद धूप खिलने से लोगों को राहत मिली। मौसम विभाग ने मंगलवार को हल्की बारिश और फिर 10 से 12 जुलाई तक भारी बारिश का अनुमान जताया है। इसके बाद मौसम खुल सकता है।

मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक 8 जुलाई को सामान्यत: 10.2 मिमी बारिश होती है लेकिन 141.1 मिमी बारिश हुई। जुलाई में अब तक एक दिन में सबसे अधिक बारिश 1 जुलाई 2011 को 197.8 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। इसके अलावा 9 जुलाई 2006 को 182.2 मिमी, 15 जुलाई 1974 को 173.2 मिमी, 30 जुलाई 1961 को 162.4 मिमी और 10 जुलाई 1997 को 152.5 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। 1 जून से 8 जुलाई तक सामान्य बारिश 152.9 मिमी होती है लेकिन इस बार इतने दिनों में 506.6 मिमी बारिश हो चुकी है।

सोमवार को अधिकतम तापमान सामान्य से 4.9 कम 29.7 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान सामान्य से 2.5 डिग्री कम 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आंचलिक मौसम केंद्र लखनऊ के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी डॉ. अतुल कुमार सिंह ने बताया कि मंगलवार को हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं। इसके बाद 10 से 12 जुलाई तक हल्की से मध्यम बारिश रिकॉर्ड हो सकती है। इस दौरान अधिकतम तापमान 25 से 29 और न्यूनतम 24 से 26 डिग्री सेल्सियस रह सकता है।

ताजा समाचार

हल्द्वानी: बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता व निवर्तमान पार्षद के बीच विवाद ने पकड़ा तूल
Kanpur: बढ़ा हुआ बिजली का बिल आने से उपभोक्ता परेशान; समस्या दूर करने के लिए केस्को ने लगाए कैंप, अब तक आईं इतनी शिकायतें...
यह “कुर्सी बचाओ” बजट है.., विपक्ष ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- किसानों को छल रही सरकार
बरेली: पहाड़ों पर मौज मस्ती लिए बाइक चोरी करने का शौक...2 गिरफ्तार, सिर्फ 5 हजार में बेच देते थे बाइक
Supreme और High Court के न्यायाधीशों की सेवानिवृति उम्र बढ़ाने का कोई विचार नहीं: सरकार 
Kanpur: पांच वर्ष तक के बच्चों को निमोनिया से बचाव के लिए चलेगा 'सांस' अभियान; सौ से अधिक डॉक्टरों और स्टाफ नर्सों को मिलेगा प्रशिक्षण