बरेली: 50 लाख की रंगदारी मांगने वाला स्मैक तस्कर का दामाद गिरफ्तार

आरोपी मोहनपुर के प्रधान ने बिल्डर के निर्माण स्थल पर किया था हमला

बरेली: 50 लाख की रंगदारी मांगने वाला स्मैक तस्कर का दामाद गिरफ्तार

बरेली, अमृत विचार। कैंट क्षेत्र में बिल्डर के निर्माण स्थल पर हमला कर 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगने वाले फतेहगंज पश्चिमी के स्मैक तस्कर उस्मान के दामाद गांव मोहनपुर के प्रधान जाकिर को कैंट पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

कैंट के चौधरी मोहल्ला के रहने वाले अंकित त्रिपाठी ने बताया कि मोहनपुर में आरटीओ ऑफिस के समीप उनकी जमीन है। वहां पर उन्होंने चौकीदार को रहने के लिए दो कमरे बना दिए हैं। चौकीदार परिवार समेत वहां रह रहे हैं। आरोप है कि जब भी वह इस जमीन पर निर्माण कार्य शुरू करते हैं तो ड्रग माफिया उस्मान का दामाद प्रधान जाकिर निवासी मोहनपुर दबंगों को ले जाकर हस्तक्षेप शुरू कर देता है।

अंकित का आरोप है कि आरोपी जाकिर ने 50 लाख रुपये रंगदारी मांगी थी। मजबूर होकर उसने 28 मार्च को दो लाख रुपये दिए और फिर आरोपी जाकिर ने धमकाते हुए 48 लाख रुपये की मांग की। सात जून को अंकित अपनी जमीन पर निर्माण कार्य करा रहे थे। उसी दौरान जाकिर भाई वाजिद, आसिफ समेत करीब 50 लोगों के साथ वहां आया। आरोपी हथियार और तलवारों से लैस थे। इस दौरान राजमिस्त्री और मजदूरों से मारपीट की गई। उन्हें धमकाया और निर्माण रुकवा दिया। रंगदारी मांगते हुए जान से मारने की धमकी दी गई।

आरोपी को घर से गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया-पंकज श्रीवास्तव, सीओ प्रथम।

ये भी पढ़ें-बरेली: रामेश्वर धाम कॉलोनी में घर के ताले तोड़कर 15 लाख की चोरी

ताजा समाचार

UP में बड़ा एक्शन, ADG की रेड के बाद बलिया में नरही SHO और कोरन्टाडीह चौकी का पूरा स्टाफ Suspend   
कांग्रेस सांसद ने सरकार की तुलना ईस्ट इंडिया कंपनी से की, सरकारी संपत्तियों को बेचने का लगाया आरोप
बरेली: बच्चों के बुखार की न करें अनदेखी...दो महीने में 4 में मिले 'मेनिनजाइटिस' के लक्षण
हल्द्वानी: बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता व निवर्तमान पार्षद के बीच विवाद ने पकड़ा तूल
Kanpur: बढ़ा हुआ बिजली का बिल आने से उपभोक्ता परेशान; समस्या दूर करने के लिए केस्को ने लगाए कैंप, अब तक आईं इतनी शिकायतें...
यह “कुर्सी बचाओ” बजट है.., विपक्ष ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- किसानों को छल रही सरकार