शाहजहांपुर: विपिन हत्याकांड में पुलिस को बिसरा रिपोर्ट का इंतजार, आरोपी दे रहे धमकी

शाहजहांपुर: विपिन हत्याकांड में पुलिस को बिसरा रिपोर्ट का इंतजार, आरोपी दे रहे धमकी

demo

खुटार,अमृत विचार: विपिन हत्याकांड में मौत का कारण स्पष्ट नहीं होने से पुलिस बिसरा रिपोर्ट का इंतजार रही है, वहीं आरोपी पीड़ित परिवार को समझौता नहीं करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पीड़ित ने इस संबंध में एसपी को पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगाई है। पीड़ित परिवार को यह भी कहना है कि महिला ने अपने दो मित्रों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था, जो दर्ज कराई गई रिपोर्ट में छूट गए थे, उन्हें दर्ज की गई रिपोर्ट में शामिल किया जाए। 

गांव महेशापुर निवासी सेवाराम ने बताया कि उसका छोटा भाई विपिन कुमार कश्यप की शादी तय हो गई थी। 28 अप्रैल को शादी होनी थी। उसके भाई विपिन का गांव की शादीशुदा महिला खुशबू से संबंध थे। भाई ने खेत गिरवी रखकर उसे 40 हजार रुपये उधार में दिए थे।

इसके अलावा जो कमाता था उसे दे देता था। 12 अप्रैल को उसका छोटा भाई विपिन रुपये लेने खुशबू के घर गया। उसने रुपये देने से मना कर दिया और गांव के एक व्यक्ति ने भाई के साथ पिटाई की थी। किसी तरह छूट कर भाई वापस घर आया था, तो वहीं उक्त व्यक्ति के उसी महिला से भी संबंध है। जिस कारण उक्त व्यक्ति भाई से रंजिश मानने लगा था। 

13 अप्रैल को खुशबू ने उसके भाई को घर बुलाया था। उसी दिन सुबह करीब दस बजे एक दूसरा व्यक्ति साथ गया था। जहां दोनों व्यक्तियों ने खुशबू वर्मा के साथ उसके भाई को पकड़ लिया और शराब में जहरीला पदार्थ मिलाकर जबरदस्ती पिला दिया था। सूचना मिली कि बरम बाबा स्थान पर विपिन बेहोशी की हालत में पड़ा है। परिजनों ने उसे खुटार निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। 14 अप्रैल को स्वास्थ्य ठीक होने के बाद डॉक्टर ने छुट्टी कर दी थी। विपिन को घर लेकर चले आए थे। इसके बाद भाई ने सारी घटना मौके पर उसे और बहन निशा व बहनोई सचिन मौजूदगी में बताई। 

शाम करीब पांच बजे फिर से तबीयत खराब हो गई और डॉक्टर के यहां लेकर गए। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। 15 अप्रैल को पुलिस को सूचना दी गई। तो शव का पोस्टमार्टम कराया। 16 अप्रैल को पुलिस ने आरोपी खुशबू वर्मा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली। पीड़ित सेवाराम ने बताया कि घटनाक्रम में शामिल दो आरोपी के नाम प्रार्थना पत्र में लिखने में गलती से छूट गए थे। जिससे दोनों आरोपी के खिलाफ भी रिपोर्ट दर्ज की जाए। जबकि आरोपी धमकी दे रहे हैं कि मुकदमा में राजीनामा नहीं लिया तो तुम्हें और तुम्हारे परिवार को जान से मार देंगे। आरोपी राजनीतिक पहुंच वाले हैं। जिससे उसे और उसके परिवार को जान माल का खतरा बना हुआ है। पीड़ित सेवाराम ने पुलिस  अधीक्षक शाहजहांपुर को प्रार्थना पत्र भेजकर आरोपियों को जेल भिजवाने की मांग की है।

शराब में जहर मिलाकर पिलाने की परिजनों द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हुआ था। इसलिए बिसरा सुरक्षित रखवाया गया था। बिसरा की रिपोर्ट मिलने के बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी
संजय कुमार, थानाध्यक्ष खुटार

 

 

 

 

ताजा समाचार

लखीमपुर-खीरी: नेपाल सीमा से दिल्ली जा रही डबल डेकर बस अनियंत्रित होकर खाई में पहुंची, कई यात्री घायल
लखनऊ: विद्युत नगरीय वितरण मण्डल की ओर से किया गया विशाल भण्डारे का आयोजन
लखनऊ: जुलाई से आंदोलन शुरू करेंगे कर्मचारी, स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ की बैठक में हुआ अहम निर्णय
गोंडा: झोलाछाप के इलाज से बच्चे की मौत, परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगा थाने पर किया प्रदर्शन
Kannauj: दहेज लोभियों ने मुंडवा दिया महिला का सिर, फिर घर से निकाला, ससुरालियों पर केस दर्ज, पढ़ें पूरी खबर
Chitrakoot: पिटाई से घायल युवक की मौत पर परिजनों ने किया हाईवे जाम, आधे घंटे तक यातायात रहा बाधित, घर छोड़कर भागे आरोपी