बरेली: क्लाउड कंप्यूटरिंग और ड्रोन टेक्नोलॉजी के नहीं शिक्षक, कैसे हो पढ़ाई?

12वीं तक की शिक्षा में एनईपी लागू करने के लिए माध्यमिक विभाग कर रहा तैयारी

बरेली: क्लाउड कंप्यूटरिंग और ड्रोन टेक्नोलॉजी के नहीं शिक्षक, कैसे हो पढ़ाई?

बरेली, अमृत विचार। जिले के माध्यमिक स्कूलों में आगामी सत्र से राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत कोर्स संचालित करने की योजना की जा रही है। विभाग की ओर से विद्यालयों में विभिन्न तैयारियों पर भी जोर दिया जा रहा है, लेकिन इसके लिए आवश्यक शिक्षकों की कमी को विभाग ने नजरंदाज कर दिया गया है, जिसका खामियाजा विद्यार्थियों को चुकाना पड़ सकता है।

माध्यमिक शिक्षा विभाग ने कक्षा 9 से 12वीं तक के विद्यार्थियों को कंप्यूटर में निपुण बनाने के लिए ऐसे टापिक जोड़े हैं, जो वर्तमान की मांग के अनुरूप हैं। इन पर पकड़ बनाने के बाद छात्र - छात्राओं को भविष्य में रोजगार के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। यूपी बोर्ड ने कंप्यूटर के पाठ्यक्रम को संशोधित करते हुए सिक्योरिटी, सूचना प्रौद्योगिकी, ड्रोन टेक्नोलाजी, क्रिप्टो करंसी, क्लाउड कंप्यूटिंग जैसे टापिक शामिल किए हैं, लेकिन अधिकतर स्कूलों में इस विषय और टॉपिक की शिक्षा देने के लिए शिक्षक ही नहीं है। ऐसे में किस तरह बच्चे कंप्यूटर में टापिक की समझकर खुद को साबित कर सकेंगे।

विभागीय अधिकारियों ने बताया कि यूपी बोर्ड ने वर्ष 1998 में हाईस्कूल और वर्ष 2000 में इंटर में कंप्यूटर का कोर्स लागू किया, लेकिन राजकीय और सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में दो दशक बाद भी नियमित कंप्यूटर शिक्षक नहीं मिल सके हैं। जिले में राजकीय विद्यालय और अशासकीय और वित्तविहीन विद्यालयों में 80 प्रतिशत कंप्यूटर के शिक्षक ही नहीं है। जिला विद्यालय निरीक्षक सोमारू प्रधान ने बताया कि शासन की ओर से कम्प्यूटर शिक्षकों की भर्ती नहीं हुई है। इस संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें- बरेली: जंक्शन पर ऑटो-टैक्सी पार्किंग हुई नि:शुल्क

ताजा समाचार

हल्द्वानी: रेलवे की जमीन पर हुए अतिक्रमण मामले पर सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई
तो प्राधिकरण ने बिना सर्वे बना दिया 35 करोड़ का प्रोजेक्ट!..जलभराव झेल रहे हैं जलवानपुरा के बाशिंदे
Paris Olympics 2024 : भारतीय तीरंदाजों का लक्ष्य...ओलंपिक में पहला पदक जीतना 
Kanpur: फर्स्ट ईयर के छात्र समेत तीन ने जिंदगी से किया अलविदा...अपनों को फंदे पर लटका देख परिजनों की निकली चीख
Kanpur: क्लास में बच्चों को न बैठने देने पर जमकर हंगामा...अक्सर विवादों में रहता ये स्कूल, जांच में जुटी पुलिस
Kanpur News: छात्रा आत्महत्या कांड में दरोगा समेत तीन बरी...एडीजे-7 की कोर्ट ने सुनाया फैसला, जानें- पूरा मामला