उभरती प्रौद्योगिकियों को प्रदर्शित करने के लिए दिल्ली में टेक संग्रहालय के निर्माण की योजना बना रही सरकार

उभरती प्रौद्योगिकियों को प्रदर्शित करने के लिए दिल्ली में टेक संग्रहालय के निर्माण की योजना बना रही सरकार

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने भारत की उभरती और भविष्य की प्रौद्योगिकियों को प्रदर्शित करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में एक ‘टेक संग्रहालय’ स्थापित करने की योजना बनाई है। आधिकारिक दस्तावेजों से यह जानकारी सामने आई है। केंद्र की प्रमुख निर्माण एजेंसी केंद्रीय लोक निर्माण विभाग (सीपीडब्ल्यूडी) ने यमुना नदी के पश्चिमी तट पर विकसित किए जा रहे नव भारत उद्यान में अत्याधुनिक संग्रहालय की निर्माण योजना, डिजाइन और विकास पर परामर्श सेवाएं देने के लिए प्रस्ताव अनुरोध आमंत्रित किए हैं। 

आधिकारिक दस्तावेजों के मुताबिक, ‘टेक संग्रहालय’ एक प्रमुख प्रदर्शनी स्थल होगा, जो आगंतुकों को भारत द्वारा इस्तेमाल की जा रही नवीनतम प्रौद्योगिकियों की बेहतर समझ प्रदान करने और विभिन्न क्षेत्रों में राष्ट्र की उपलब्धियों को लेकर उनमें गर्व की भावना पैदा करने पर केंद्रित होगा। दस्तावेजों के अनुसार, संग्रहालय में ऐसी प्रौद्योगिकियां प्रदर्शित करने की आवश्यकता है, जो भविष्यवादी, नवीनतम या अपनी तरह की पहली हों, जैसे कि 3-डी मैपिंग तकनीक, ‘टच-इनेबल्ड डिस्प्ले’, एवी प्रोजेक्शन के माध्यम से चित्रण, होलोग्राम, ‘मल्टी-टच इंटरैक्टिव टेबल’, ‘टच कियोस्क’, ‘क्यूआर कोड’ जानकारी और ‘एलईडी प्रोजेक्शन’ दीवार, ताकि आगंतुकों को सहज एवं गहन अनुभव प्रदान करने में मदद मिल सके। 

सीपीडब्ल्यूडी ने प्रस्ताव अनुरोध (आरईपी) दस्तावेज में कहा, “टेक डोम की परिकल्पना एक प्रौद्योगिकी चमत्कार के रूप में की गई है और यह किसी विशिष्ट प्रौद्योगिकी पर निर्भर नहीं है, बल्कि यह प्रदर्शनी के माहौल के अनुरूप संचार के सबसे प्रभावी उपकरणों का इस्तेमाल करता है।” निर्माण एजेंसी ने बताया कि चयनित सलाहकारों को तकनीकी संग्रहालय को डिजाइन करने, अनुमोदित विषयों के आधार पर सामग्री तैयार करने और आगंतुकों को विश्व स्तरीय अनुभव प्रदान करने के लिए भविष्य की प्रौद्योगिकियों से जुड़ी सामग्री विकसित एवं निष्पादित करने का जिम्मा सौंपा जाएगा। 

यमुना नदी के पश्चिमी तट पर विकसित किया जा रहा नव भारत उद्यान केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास योजना का हिस्सा है। ‘टेक संग्रहालय’ का निर्माण 30 एकड़ भूमि पर बनाए जा रहे इसी उद्यान में किया जाएगा। बोली के लिए आवेदन की अंतिम तिथि छह अक्टूबर है। 

ये भी पढ़ें- 

ताजा समाचार

प्रतापगढ़: विद्यालय में गड़बड़ी पर बिफरे डीआईओएस, प्रधानाध्यापक समेत चार का रोका वेतन
Kanpur: प्रेमजाल में फंसाकर प्रेमिका ने किया ब्लैकमेल; छीन ली कार, खाते से उड़ाए 40 हजार, पीड़ित की मां ने दर्ज कराई रिपोर्ट
लखनऊ: पेट और किडनी में फैले कैंसर की जटिल सर्जरी कर मासूम को दी नई जिंदगी 
हरदोई में बाढ़ की चपेट में आए 83 स्कूल 18 जुलाई तक बंद, डीएम ने जारी किया आदेश-पढ़िए कहां लगेगी शिक्षकों की हाजिरी  
बरेली: 11970 में सिर्फ 12 शिक्षकों ने ही दर्ज की ऑनलाइन उपस्थिति, महानिदेशक नाराज
बरेली: इन्कम टैक्स रिटर्न भरने की तारीख नजदीक, विभाग का पोर्टल सुस्त