सस्ता सामान कहीं बिकवा न दे आपका मकान, Kanpur में क्राइम ब्रांच ने वीडियो बनाकर लोगों को किया जागरूक

कानपुर में क्राइम ब्रांच लोगों को जागरूक कर रही।

सस्ता सामान कहीं बिकवा न दे आपका मकान, Kanpur में क्राइम ब्रांच ने वीडियो बनाकर लोगों को किया जागरूक

सस्ता सामान कहीं बिकवा न दे आपका घर और मकान, इस पंचलाइन से साइबर क्राइम सेल की एसीपी श्वेता कुमारी नागरिकों को जागरूक कर रही हैं। उन्होंने तमाम साइटों पर सस्ता सामान बेचने का झांसा देकर ठगी करने के प्रति वीडियो बनाकर लोगों को जागरूक किया

कानपुर, अमृत विचार। सस्ता सामान कहीं बिकवा न दे आपका घर और मकान, इस पंचलाइन से साइबर क्राइम सेल की एसीपी श्वेता कुमारी नागरिकों को जागरूक कर रही हैं। उन्होंने तमाम साइटों पर सस्ता सामान बेचने का झांसा देकर ठगी करने के प्रति वीडियो बनाकर लोगों को जागरूक किया। बताया कि कोई भी सस्ता सामान बिकने की जानकारी मिले तो पुख्ता छानबीन करें। यूं ही फोन पर बातचीत करके किसी का भरोसा न कर लें।

गुरुवार को क्राइम ब्रांच ने एक वीडियो मैसेज सोशल मीडिया पर जारी किया। इस वीडियो में किरदार निभाने वालों में साइबर सेल के मो.अकरम और पुलिस लाइन के नूर मोहम्मद हैं। वीडियो के लिए कंटेट लिखने वाले साइबर सेल के पवन कुमार हैं। इस वीडियो में ऐसा क्या खास है.. हम आपको शब्दों से चित्र खींचकर जागरूक कर रहे हैं।

इस तरह है इस वीडियो का कंटेंट

इस वीडियो की शुरुआत में संदेश की पंचलाइन देखने को मिलेगी। वीडियो में एक युवक बाइक स्टार्ट करते दिखाई दे रहा है। बाइक स्टार्ट न होने पर दूसरा व्यक्ति आता है। बाइक स्टार्ट करने वाला कहता है कि पुरानी बाइक हो गई है, स्टार्ट नहीं हो रही है। इस पर दूसरा व्यक्ति कहता है कि पुरानी मत कहो यार, पुरानी यादें हैं।

इस पर पहला व्यक्ति कहता है कि क्यों इसके चक्कर में पड़े हो, एक साइट का नाम लेकर दूसरी बाइक देखने को कहता है। साइट देखने पर एक आर्मी वाले केटीएम बाइक बेचने की जानकारी मिलती है। उसके नंबर पर जब बात की जाती है तो कॉलर रुपये ट्रांसफर करने को कहता है। इस पर पहला व्यक्ति दूसरे व्यक्ति को जल्दी पैसे ट्रांसफर करने को कहता है। इसी बीच दूसरी तरफ से आवाज आती है कि क्या आपने मनी ट्रांसफर करने से पहले वेरीफिकेशन कर लिया है। यह सुनकर वह अलर्ट हो जाता है।
बचना नहीं, अब सावधान रहकर लड़ना है 

एसीपी श्वेता कुमारी ने बताया कि मनी ट्रांसफर करने से पहले विचार अवश्य कर लें क्योंकि जालसाज ओएलएक्स और ट्विटर जैसी वेबसाइट्स पर भी महंगी वस्तुओं को सेकेंड हैंड सस्ते दामों में आपको जाल में फंसा सकते हैं। अगर पैसा ऑनलाइन ट्रांसफर कर दिया तो समझो गए।


Online Jobs Apply