सीएम धामी ने कहा- श्रमिकों को निकालने के लिए पूरी शिद्दत से जुटे बचावकर्मी, सुरंग के मलबे में अब तक 52 मीटर पाइप डाला गया

सीएम धामी ने कहा- श्रमिकों को निकालने के लिए पूरी शिद्दत से जुटे बचावकर्मी, सुरंग के मलबे में अब तक 52 मीटर पाइप डाला गया

उत्तरकाशी। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को कहा कि सभी बचावकर्मी सुरंग में फंसे श्रमिकों को निकालने के लिए पूरी शिद्दत एवं मेहनत के साथ काम में जुटे हुए हैं और अब तक मलबे के अंदर कुल 52 मीटर पाइप डाला जा चुका है। 

सिलक्यारा पहुंचकर सुरंग में पिछले 16 दिनों से फंसे श्रमिकों को बाहर निकालने के लिए जारी बचाव अभियान का जायज़ा लेने के बाद मीडिया से बातचीत में धामी ने कहा कि अब तक कुल 52 मीटर पाइप को अंदर डाल दिया गया है। उन्होंने बताया कि अंदर फंसे से सभी श्रमिक सकुशल हैं और स्वस्थ हैं। 

धामी ने कहा कि राहत एवं बचाव कार्य में जुटे श्रमिक, इंजीनियर, अधिकारी तथा विशेषज्ञ, सभी लोग पूरी ऊर्जा और सकारात्मक भाव के साथ कार्य कर रहे हैं। मुख्यमंत्री घटनास्थल के निकट स्थित मातली में बनाए गए अस्थाई कैंप कार्यालय से बचाव अभियान पर नजर बनाए हुए हैं। सुबह वह मातली से श्रमिकों का कुशलक्षेम से जानने सिलक्यारा सुरंग में पहुंचे। 

उन्होंने सुरंग में हाथ से चलाए जा रहे ड्रिलिंग के कार्य के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की और कहा कि इसके लिए पाइप में जा रहे श्रमिकों की सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाए। उन्होंने इस काम में लगे श्रमिकों से वार्ता कर उनका हौसला बढ़ाया एवं राहत तथा बचाव कार्य में जुटे सभी श्रमिकों के काम की सराहना की। 

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से अंदर फंसे श्रमिकों का कुशलक्षेम एवं निरंतर डॉक्टरों, मनोचिकित्सकों एवं श्रमिकों के परिवारजनों से उनकी बातचीत करवाने के निर्देश दिए। 

इस दौरान प्रधानमंत्री कार्यालय के पूर्व सलाहकार एवं उत्तराखंड सरकार के विशेष कार्याधिकारी भास्कर खुल्बे, बचाव कार्यों में सहयोग के लिए उत्तराखंड सरकार की ओर से नियुक्त नोडल अधिकारी नीरज खैरवाल, प्रधानमंत्री कार्यालय में उप सचिव मंगेश घिल्डियाल आदि वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे । इससे पहले, धामी ने सुरंग के प्रवेशद्वार पर स्थित बाबा बौखनाग के मंदिर पर पूजा अर्चना कर सभी श्रमिकों के सकुशल बाहर आने की कामना की। 

ये भी पढ़ें- उत्तरकाशी टनल हादसा: सिलक्यारा सुरंग में हाथ से ड्रिलिंग जारी, बचावकर्मी 50 मीटर से आगे पहुंचे

 

 

FOOTER:
Online Jobs Apply