लखीमपुर-खीरी: राज्यसभा चुनाव में सपा-कांग्रेस को मिला अपने कर्मों का फल- बृजभूषण शरण सिंह

लखीमपुर-खीरी: राज्यसभा चुनाव में सपा-कांग्रेस को मिला अपने कर्मों का फल- बृजभूषण शरण सिंह

लखीमपुर-खीरी, अमृत विचार। भाजपा अवध क्षेत्र के क्षेत्रीय अध्यक्ष कमलेश मिश्रा की बहन की शादी समारोह में शामिल होने आए भारतीय कुश्ती संघ के पूर्व अध्यक्ष और कैसरगंज से भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने हेलीपैड पर सपा और कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमला बोला। राज्यसभा चुनाव में सपा और कांग्रेस को झटका लगने पर कहा कि यह सब सपा-कांग्रेस के नेताओं के कर्मों का फल है। इसकी जिम्मेदारी भी उन्हीं की है न कि भारतीय जनता पार्टी की।

पुलिस लाइंस मैदान पर अपने निजी हेलीकॉटर से उतरे भाजपा सांसद ने मीडिया से कहा कि सपा कांग्रेस में जो कुछ भी चल रहा है, उसका कारण कहीं न कहीं नेताओं और कार्यकर्ताओं के बीच बहुत गैप हो गया है।

कल टीवी पर देख रहा था कि एक विधायक का बयान था कि चार महीने से राहुल गांधी से मिलने का समय मांग रहा हूं। एक सांसद और विधायक अपने नेता के लिए कार्यकर्ता ही होता है और वह अपने नेता से ही नहीं मिल पाएगा तो यह नौबत तो आएगी ही। 

उन्होंने लोकसभा चुनाव पर सवाल के जवाब में कहा कि सब की सब सीटें भाजपा जीतेगी। अवध क्षेत्र हमेशा भारतीय जनता पार्टी के लिए ऊर्वरक के रूप में है। पिछली बार श्रावस्ती चली गई थी। इस बार वह भी वापस आएगी। अब तो अयोध्या में भगवान श्रीराम विराजमान हो चुके हैं। ऐसे में अवध क्षेत्र में डंका नहीं बजेगा तो कहां बजेगा। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को सीबीआई के समन पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया।

ये भी पढे़ं- लखीमपुर-खीरी: 13 साल की बालिका से छेड़छाड़ करना पड़ा भारी, दोषी को मिली चार साल की कठोर करावास

 

ताजा समाचार

Unnao Accident: वाहन ने हाईवे पर दो युवकों को रौंदा...मौत, एक की नहीं हो सकी पहचान, दूसरे के परिवार वाले रो-रोकर बेहाल
काशीपुर:  मां 'सौतेली' थी...नहीं आया उसे तरस और उतार दिया बेटी को मौत के घाट
शाहजहांपुर: सुहागरात पर दुल्हन करती रही इंतजार...सुबह होते ही लोगों के उड़ गए होश, पति की सूचना मिलते ही खुशियां मातम में बदलीं
Nai Sadak Violence: नई सड़क हिंसा का आरोपी हयात जफर हाशमी बनेगा हिस्ट्रीशीटर...वर्तमान में जेल से है बाहर
अयोध्या: 15 घंटे बाद भी नहीं गया बदला जला ट्रांसफार्मर, SP सिटी और CID कार्यालय भी जद में
इजराइल का ईरान पर पलटवार, कैसे घरेलू राजनीति इजराइली कार्रवाइयों को निर्धारित कर रही है?