Bareilly News: हेमलता हत्याकांड...बहुत शातिर है पति या फिर पुलिस की छानबीन कमजोर

मंगलवार की शाम को हुई थी हत्या, पति ने लूटपाट का लगाया था आरोप

Bareilly News: हेमलता हत्याकांड...बहुत शातिर है पति या फिर पुलिस की छानबीन कमजोर

बरेली, अमृत विचार। शाही क्षेत्र में कथित लूटपाट के दौरान हेमलता की हत्या की घटना अब रहस्यमय बन गई है। वारदात के बाद पुलिस ने हेमलता के पति राजकुमार पर शक जताते हुए छानबीन शुरू की थी, नई-नई कड़ियां जोड़ते हुए अब भी यह छानबीन इसी शक के आधार पर चल रही है। 

इस बीच पुलिस लगभग रोज राजकुमार से लंबी पूछताछ करती रही है लेकिन उससे कुछ ऐसा नहीं उगलवा सकी है जो उसी पर अपनी पत्नी की हत्या का आरोप साबित करता हो।

शाही के गांव बकैनिया के राजकुमार की शादी शीशगढ़ के गांव मल्सा खेड़ा की हेमलता के साथ पिछले ही साल हुई थी। बुधवार शाम करीब सात बजे हेमलता की उस समय हत्या कर दी गई थी जब वह राजकुमार के साथ बाइक पर मायके से ससुराल लौट रही थी। 

राजकुमार ने पुलिस को बताया था कि हेमलता अपने मायके में थी, जहां से बुधवार की शाम को वह उसे लेकर बकैनिया लौट रहा था। दुनका के पास से बकैनिया जाने वाले चक रोड पर बदमाशों ने उसे रोककर लूटपाट की। इसी दौरान हेमलता ने विरोध किया तो उसके सीने और सिर में गोली मारकर हत्या कर दी।

इस वारदात के बाद बुधवार की रात से ही पुलिस राजकुमार से पूछताछ कर रही है। उच्चाधिकारी भी उससे पूछताछ कर चुके हैं। पुलिस राजकुमार के बार-बार बयान बदलने और विरोधाभासी बयान देने की बात तो कह रही है लेकिन पांच दिन बाद भी ऐसा कुछ पता नहीं लगा सकी है कि उसे हेमलता की हत्या करने का आरोपी बताया जा सके। इस बीच पुलिस ने बदमाशों के हाथों हेमलता की हत्या होने का न एतबार किया है न उन्हें तलाश करने की कोई कोशिश।

अब शक के तीन नए कारण तीन दिन पहले से जताने लगा था प्यार
पुलिस के मुताबिक जांच में पता चला है कि राजकुमार अवैध संबंधों के शक में हेमलता के साथ आए दिन मारपीट करता था। उसका मोबाइल फोन भी छीनकर चार महीने से बंद कर रखा था लेकिन हत्या के तीन दिन पहले से उसने हेमलता पर प्यार जताना शुरू किया था। हेमलता को वह उसकी नानी से बात नहीं करने देता था लेकिन इस बीच वह उसे उसकी नानी के घर भी ले गया था। वह अपनी ससुराल भी ज्यादा नहीं जाता था लेकिन हत्या के दिन ससुराल भी पहुंचा था।

दसवां संस्कार में नहीं आए ससुराल वाले
पुलिस का कहना है कि हेमलता के परिवार वालों को भी राजकुमार पर शक है, इसी कारण वह हेमलता की ससुराल में हुए उसके दसवां संस्कार में शामिल नहीं हुए। वे राजकुमार पर हेमलता के साथ अक्सर मारपीट करने का भी आरोप लगाने लगे हैं। पुलिस के इस दावे के उलट अभी हेमलता के मायके वालों के बयान दर्ज नहीं किए गए हैं। हेमलता की हत्या की रिपोर्ट भी उसके पिता ने लिखाई थी। इसमें राजकुमार पर कोई शक जताने के बजाय लूटपाट के दौरान ही हत्या किए जाने की बात कही गई थी।

हेमलता के गर्भवती होने पर भी शक की नजर
हत्या से कुछ ही देर पहले राजकुमार ने हेमलता का अल्ट्रासाउंड कराया था जिससे उसके तीन महीने की गर्भवती होने का पता चला था। यह बात खुद राजकुमार ने ही पुलिस को बताई थी। पुलिस इसे भी अवैध प्रेमप्रसंग से जोड़कर देख रहीहै। पुलिस का कहना है कि हेमलता के भ्रूण का सैंपल डीएनए जांच के लिए लखनऊ भेजा गया है। राजकुमार का डीएनए सैंपल अभी नहीं लिया गया है लेकिन जरूरत हुई तो उसका भी डीएनए टेस्ट कराया जाएगा।

हेमलता हत्याकांड में अवैध संबंधों का सुराग मिल रहा है। मायके वालों ने भी अब खुलकर बोलना शुरू कर दिया है। वे हेमलता के दसवें में शामिल नहीं हुए। पति राजकुमार से लगातार पूछताछ की जा रही है। जल्द घटना का खुलासा कर दिया जाएगा। - मानुष पारीक, एसपी देहात दक्षिणी

ये भी पढे़ं- Bareilly News: ट्रांसफार्मर फुंकने से बिजली गुल, गुस्साए लोगों ने बदायूं रोड पर लगाया जाम




ताजा समाचार