Bareilly News: रोडवेज की बसों से मंजिल तो मिलेगी पर सुरक्षा की नहीं गारंटी

किसी बस में फर्स्ट एड बॉक्स गायब तो किसी में अग्निशमन यंत्र का रखरखाव ठीक नहीं

Bareilly News: रोडवेज की बसों से मंजिल तो मिलेगी पर सुरक्षा की नहीं गारंटी

बरेली, अमृत विचार। परिवहन निगम की बसों में सफर करना खतरे से खाली नहीं है। अधिकतर बसों में फर्स्ट एड बॉक्स और अग्निशमन यंत्र खाली पड़े हैं। यदि सफर के दौरान कोई हादसा हो जाए तो यात्रियों को जरूरी दवाएं तक नहीं मिलेंगी। 

रविवार को अमृत विचार ने रोडवेज बसों की पड़ताल की। इस दौरान एक बस में फर्स्ट एड बॉक्स ही गायब था। एक अन्य बस में अग्निशमन यंत्र मिला, वो भी सीट के नीचे। सफर के दौरान यात्री कितने सुरक्षित हैं, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। यात्रियों को मंजिल तो मिलेगी, लेकिन बीच सफर में उनकी जान की कोई परवाह नहीं है।

अग्निशमन यंत्र का मीटर रेड जोन में था
सेटेलाइट से टनकपुर जाने वाली रुहेलखंड डिपो की यूपी 25 बीटी 3755 बस में अग्निशमन यंत्र मिला, लेकिन मीटर रेड जोन में था, जिससे पता चलता है कि उसमें आग बुझाने का कैमिकल खत्म है। चालक ने बताया कि एक साल पहले अग्निशमन यंत्र में गैस भरवा गई थी।

एसी बस से फर्स्ट एड बॉक्स गायब
रात में 10.35 बजे दिल्ली जाने वाली एसी बस यूपी 25 एफटी 5073 में अग्निशमन यंत्र काफी छोटा था। यह यंत्र अधिकतर तौर किचन और छोटी दुकानों में उपयोग होता है। बस में फर्स्ट एड बॉक्स गायब था।

सीट के नीचे रखा था अग्निशमन यंत्र
बरेली से दिल्ली को जाने वाली यूपी 78 जेएन 1877 बस में फर्स्ट एड बॉक्स था, लेकिन दवाएं नहीं थी। बस में करीब 20 यात्री सवार थे। अग्निशमन यंत्र सीट के नीचे रखा था। देखने से पता चल रहा था कि देखरेख के अभाव में बेकार पड़ा है।

लंबे रूट पर भी दौड़ रहीं जर्जर बसें
बरेली डिपो की करीब 600 बसें दौड़ रही हैं। तीन महीने पहले 40 नई बसें इस बेड़े में और शामिल हुई हैं। कुछ पुरानी बसें जर्जर हैं। इन्हें बिना सुरक्षा-व्यवस्था के लंबे रूट पर भी दौड़ाया जा रहा है।

सीट बेल्ट भी नहीं
कुछ बसों में ड्राइवर सीट पर सीट बेल्ट ही नहीं है। कइयों में बेल्ट के लॉक टूटे पड़े हैं। अफसर भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। चालक भी यातायात नियमों के प्रति गंभीर नहीं हैं। परिचालक भी ड्यूटी के समय वर्दी नहीं पहनते हैं।

रोडवेज की सभी बसों में फर्स्ट एड बॉक्स के साथ अग्निशमन यंत्रों को समय-समय पर चेक कराया जाता है। अगर कहीं किसी बस में कोई कमी है तो उसे दुरुस्त कराया जाएगा।-धनजी राम, सेवा प्रबंधक, बरेली रीजन

ये भी पढे़ं- Bareilly News: बीजेपी की महिला नेता ने दुष्कर्म की कोशिश और जानलेवा हमले का लगाया आरोप

 

 

ताजा समाचार

रुद्रपुर: SSP की फटकार पर भड़का श्रमिक संयुक्त मोर्चा, लगाया कंपनी की मदद का आरोप
ICC Rankings : स्मृति मंधाना महिला एकदिवसीय बल्लेबाजी रैंकिंग में तीसरे स्थान पर पहुंची, पूजा वस्त्राकर ने लगाई लंबी छलांग 
Kanpur: विद्युत बिल से नहीं होगा गृहकर का मिलान, नगर निगम अधिकारियों ने खड़े किये हाथ, मोबाइल पर पहुंचेगा हाउस टैक्स
बहराइच: मजिस्ट्रेट की निजता के उल्लंघन पर भड़का राजस्व प्रशासनिक संघ, डीएम को सौंप ज्ञापन, जानें पूरा मामला
लखनऊ: SGPGI में महिला डॉक्टर की संदिग्ध परिस्थितियों मौत, हॉस्टल के कमरे में मिली थी बेहोश
थाईलैंड में समलैंगिक विवाह को कानूनी मान्यता देने वाले विधेयक को मिली मंजूरी