Video : ई-रिक्शा चालक की मौत के बाद नगर निगम ने खोला मकान का ताला, कहा-कोई कार्रवाई न की जाये

Video : ई-रिक्शा चालक की मौत के बाद नगर निगम ने खोला मकान का ताला, कहा-कोई कार्रवाई न की जाये

लखनऊ, अमृत विचार। नगर निगम के अधिकारियों ने सोमवार को हैदरगंज स्थित वैरागी टोला में की गई सीलिंग की कार्रवाई से कदम पीछे हटा लिये हैं। कर्मचारियों ने आकर इलाके के घरों पर लगे चस्पा नोटिस को हटा लिया है। साथ ही घरों के तालों पर लगे सील को भी हटा लिया है।

दरअसल, 10 फरवरी को नगर निगम की टीम ने वैरागी टोला के चार घरों पर गृहकर बकाया न जमा करने के चलते नोटिस चस्पा करते हुये मकानों को सील कर दिया था। साथ ही गृहकर न जमा करने पर कार्रवाई की बात भी कही थी। जिसके बाद आरोप है कि मकान सील होने कारण ई-रिक्शा चालक शीतल कश्यप ने आत्महत्या कर ली थी। स्थानीय लोगों की माने तो घर के अंदर ही ई-रिक्शा भी सील हो गया था। जिससे शीतल के आय का जरिया भी रुक गया था। इतना ही नहीं नगर निगम के अधिकारियों ने मकान सील करते समय शीतल कश्यप के साथ अभद्रता भी की थी। जिसके बाद शीतल ने आत्महत्या कर ली।

ई-रिक्शा चालक के आत्महत्या करने के बाद पीड़ित परिजनों ने नगर निगम के अधिकारियों के खिलाफ लिखित शिकायत की थी। जिसके बाद नगर निगम के अधिकारियों की खूब किरकिरी हो रही थी। यही वजह है कि नगर निगम की तरफ से चस्पा की गई नोटिस हटा ली गई है। साथ ही लिखित पत्र भी दिया गया है, जिसमें लिखा है कि ताला खोल दिया गया, कोई कार्रवाई न की जाये।

यह भी पढ़ें : लखनऊ : मदरसा बोर्ड की परीक्षायें कल से, सीसीटीवी की निगरानी में होगा एग्जाम

ताजा समाचार

Kanpur: दंडवत यात्रा में भक्तों का पुष्प वर्षा से हुआ स्वागत; करौली शंकर बोले- 'मोक्ष के लिए गुरू कृपा जरूरी'
आगरा: पुलिस पर अधिवक्ता की हत्या का आरोप, वकीलों ने पुतला दहन कर खोला मोर्चा
चुनाव में पक्षपात करने वाले अधिकारी हो जाएं सावधान, गड़बड़ी पर होगी कड़ी कार्रवाई, निर्वाचन आयोग के सख्त निर्देश
शाहाबाद में बच्चों को लड्डू में जहर देने का आरोप, तीन मासूमों की बिगड़ी हालत-ICU में चल रहा इलाज  
प्रयागराज: विधायक के बोल की खुल रही पोल!, तीन साल बीत गए नहीं लग पाया ऑक्सीजन प्लांट, जनता निराश!
बरेली: अद्भुत और सुंदर...'पंख वाले किन्नर' खुद में समेटे हैं पौराणिक इतिहास
Online Jobs Apply