प्रयागराज: जिले में निराश्रित गोवंश को संरक्षण प्रदान का योगी सरकार का सौ फीसदी लक्ष्य हुआ पूरा, जनता को मिली इस समस्या से निजात!

योगी सरकार के प्रयासों से 120 गो आश्रय स्थलों का हुआ निर्माण

प्रयागराज: जिले में निराश्रित गोवंश को संरक्षण प्रदान का योगी सरकार का सौ फीसदी लक्ष्य हुआ पूरा, जनता को मिली इस समस्या से निजात!

प्रयागराज, अमृत विचार। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार प्रदेश के निराश्रित गोवंश को संरक्षण प्रदान कर रही है । गोवंश के संरक्षण के लिए शुरू की गई मुख्यमंत्री निराश्रित गोवंश सहभागिता योजना से पशु पालकों और किसानो की आय में बढ़ोत्तरी भी हो रही है । प्रयागराज जनपद ने इसमें लक्ष्य का सौ फीसदी से अधिक का लक्ष्य हासिल कर लिया है। 

जिले में 32,824  निराश्रित गोवंश का किया गया संरक्षण

प्रयागराज जिले ने निराश्रित गोवंश को आश्रय प्रदान करने में बड़ी सफलता हासिल की है। इसे लेकर गोवंश पालक और किसान भी सहयोग कर रहे हैं। जिले के मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. अनिल कुमार द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक़ जनपद में शासन द्वारा इस योजना के लिए 28,816 निराश्रित गोवंश के संरक्षण का लक्ष्य रखा गया था। फरवरी 2024 तक जनपद में 32,824 निराश्रित गोवंश का संरक्षण किया गया है। इस तरफ जनपद ने गोवंश संरक्षण का 113.93 फीसदी हासिल कर लिया है। 

संरक्षित गोवंश की टैगिंग का कार्य भी हुआ पूरा

जनपद ने निराश्रित गोवंश के संरक्षण के लिए कुल 129 गो आश्रय स्थल क्रियाशील हैं। सीवीओ प्रयागराज डॉक्टर अनिल कुमार के मुताबिक जनपद में 32,685 आश्रित गो वंश के ईयर टैगिंग का कार्य भी पूरा हो चुका है। इस तरह जनपद में ईयर टैगिंग का 99.59 फीसदी का लक्ष्य पूरा हो चुका है। 

आवारा पशुओं की समस्या से मिली निजात

सरकार के इस प्रयास  में गोवंश के संरक्षण के लिए गो शाला, अस्थायी गो आश्रय स्थल, कान्हा गो शाला और कांजी हाउस  का सहयोग लिया जा रहा है।  विभागीय अधिकारियों के मुताबिक जनपद प्रयागराज में इस योजना के तहत सबसे अधिक गो वंश का संरक्षण अस्थायी गोवंश स्थल में किया गया है जिनकी संख्या 16,880 है ।  
जिले में 117अस्थायी गो वंश स्थल और तीन स्थायी वृहद गो वंश स्थल बनाये गए है । 

जिले में परानीपुर में चौथी वृहद स्थाई गौशाला का निर्माण हो रहा है जिसकी क्षमता 600 है। इसके अलावा कान्हा गौशाला, पंजीकृत गौशाला में और अपंजीकृत गौशाला में भी गो वंश का संरक्षण किया गया है। इस तरह जिले में आवारा पशुओं की समस्या से पूरी तरह निजात मिल गई है।

यह भी पढे़ं: लखनऊ: BSP MLA राजू पाल हत्याकांड मामले में CBI कोर्ट ने किया सजा का एलान, 7 दोषियों को मिली उम्रकैद

ताजा समाचार