पीलीभीत: बरेली से पहुंची एटीएस ने देखा घटनास्थल, बंद मकान में ब्लास्ट के बाद आग लगने का मामला...रहस्य बरकरार

पीलीभीत: बरेली से पहुंची एटीएस ने देखा घटनास्थल, बंद मकान में ब्लास्ट के बाद आग लगने का मामला...रहस्य बरकरार

पीलीभीत, अमृत विचार: बंद मकान में ब्लास्ट के बाद आग लगने का मामला पुलिस के लिए भी रहस्य बना हुआ है। एक दिन पूर्व फॉरेंसिक टीम की मदद से सुरागरसी की गई थी। दूसरे दिन बरेली से एटीएस पहुंची और घटनास्थल को देखा।  हालांकि अभी कोई नतीजा नहीं निकल सका है। टीमें गहनता से पड़ताल कर रही हैं कि आखिर ब्लास्ट हुआ कैसे? उधर, मोहल्ले के लोगों में भी घटना को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं। जिनका जवाब हर कोई तलाशता रहा।

घटना गुरुवार देर रात की है। शहर के मोहल्ला शेर मोहम्मद निवासी फल व्यापारी रईस हुसैन के बंद मकान में ब्लास्ट के बाद आग लग गई थी। वह करीब छह माह से अपने भाई इमरान समेत अन्य परिजन संग नेपाल के धनगढ़ी में रह रहे हैं।  मकान के बाहरी हिस्से में किराएदार फरीद अहमद रहते हैं, वह भी बुधवार को बरेली चले गए थे। मकान घटना की रात खाली था। 

मोहल्ले के लोगों ने आग पर बमुश्किल काबू किया था। आग लगने की वजह सामने नहीं आ सकी थी। शुक्रवार दोपहर को एसपी अविनाश पांडेय ने फॉरेंसिक टीम संग मौका मुआयना किया था। जिसमें फ्रिज की तरफ ब्लास्ट प्वाइंट होने की संभावना जताई गई थी। जिस महिला के पास मकान की चाबी थी वह भी घायल हुई थी। उसने बंद मकान में चार लोगों के होने और उस पर हमला करने की बात कही थी। 

जिससे मामला और उलझ गया था।  इस घटना के बाद तरह-तरह की चर्चाएं तेज हो रही है। जिसको देखते हुए पुलिस अधिकारी भी गहनता से पड़ताल करने में जुटे हुए हैं। शनिवार को बरेली से एटीएस पीलीभीत पहुंची। मकान को एक दिन पहले ही पुलिस यलो टेप लगाकर सील कर चुकी थी। टीम ने मौका मुआयना कर कई बिंदुओं पर पड़ताल की।  कोतवाल नरेश त्यागी ने बताया कि मामले में अभी सुरागरसी चल रही है। स्थिति पूरी तरह से स्पष्ट न होने पर जांच चल रही है, जल्द ही तस्वीर साफ हो जाएगी।

यह भी पढ़ें- पीलीभीत: मकान में मिला वृद्धा का शव, बेटी बोली- भाई ने कर दी जहर देकर हत्या

ताजा समाचार