गोंडा: फाइनेंस कंपनी के एजेंट से हुई लूट का खुलासा, मास्टरमाइंड समेत 5 गिरफ्तार 

बस्ती व अयोध्या जिले के रहने वाले हैं सभी आरोपी, 3.02 लाख की नकदी बरामद

गोंडा: फाइनेंस कंपनी के एजेंट से हुई लूट का खुलासा, मास्टरमाइंड समेत 5 गिरफ्तार 

गोंडा, अमृत विचार। नवाबगंज थाना क्षेत्र के टिकरी जंगल के समीप चार जुलाई की रात फाइनेंस कंपनी के एजेंट से हुई लूट की घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने वारदात के मास्टरमाइंड समेत पांच लुटेरों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से लूटी गई 3.02 लाख रुपए की धनराशि व तीन बाइक बरामद की हैं। बुधवार को पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर घटना का खुलासा किया। 

वजीरगंज थाना क्षेत्र के पांडे टिकरी गांव के रहने वाले रहने वाला विनोद कुमार पांडेय टिकरी स्थित एक फाइनेंस कंपनी के सीएसपी पर एजेंट का कार्य करता है। अयोध्या स्थित फाइनेंस कंपनी से वह अक्सर कैश लेकर सीएसपी आता है‌। चार जुलाई की रात विनोद अपने एक अन्य साथी के संग 5.63 लाख रुपये लेकर रात करीब 10 बजे अयोध्या से टिकरी लौट रहा था‌। रास्ते में टिकरी मोड़ के समीप तीन बाइक सवारों ने उसे घेर लिया था और डंडे से प्रहार कर उसका रुपयों वाला बैग छीनकर फरार हो गए थे। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस के आला अधिकारियों ने डॉग स्क्वायड व फील्ड यूनिट की टीम के साथ घटनास्थल का निरीक्षण किया था। घटना के खुलासे के लिए एसओजी व सर्विंलास टीमें के साथ कुल पांच टीमें लगायी गयी थीं। 

बुधवार को पुलिस टीम ने सफलता हासिल करते हुए वारदात के मास्टरमाइंड समेत घटना में शामिल पांच आरोपियों को सरयू पुल अयोध्या बस्ती मार्ग स्थित एक खाली मड़हे से दबोच लिया। पकड़े गए आरोपी सुधाकर पांडेय, ऋषभ चौधरी, अनुराग त्रिपाठी व हर्षित शुक्ला बस्ती तथा प्रशांत दूबे अयोध्या जिले के रौनाही थाना क्षेत्र के सनाहा उपरहर गांव का रहने वाला है‌। पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि पुलिस ने आरोपियों के पास से 3.02 लाख रुपये नकदी समेत लूटी गई एक माइक्रो एटीएम डिवाइस, बैग, आधार कार्ड, तीन बाइक व चार मोबाइल फोन बरामद किया गया है‌। एसपी के मुताबिक घटना में कुल 8 लेग शामिल थे। पांच की गिरफ्तारी कर ली गयी है। तीन आरोपियों की तलाश की जा रही है‌। जल्द ही उन्हे भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा। घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार राय, एसओजी प्रभारी सर्वजीत गुप्ता, सर्विलांस प्रभारी सादाब आलम शामिल रहे। 

फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी सुधाकर ने रची थी लूट की साजिश
एसपी विनीत जायसवाल ने बताया कि विनोद जिस कंपनी का फाइनेंस एजेंट है उसी कंपनी में बस्ती जिले के कलवारी थाना क्षेत्र के ग्राम डारीडीहा का रहने वाला सुधाकर पांडेय भी पिछले 16 महीने से काम कर रहा था। सुधाकर को पता था कि विनोद प्रत्येक बृहस्पतिवार को कंपनी से रुपया लेकर जाता था। सुधाकर ने यह बात ऋषभ चौधरी, अनुराग त्रिपाठी, हर्षित शुक्ला बस्ती तथा प्रशांत दूबे से साझा करते हुए घटना की साजिश रची थी। वारदात को अंजाम देने से पहले आरोपियों ने विनोद की रेकी भी की थी। घटनास्थल भी पहले से तय‌ कर लिया था। चार जुलाई को जब विनोद  रुपये लेकर निकला तो आरोपियों ने पहले से तय प्लानिंग के मुताबिक उसका तीन बाइकों से पीछा किया। जब विनोद टिकरी मोड़ पर पहुंचा तो आरोपियों ने दो बाइक से उसे ओवरटेक कर घेर लिया, जबकि तीसरी बाइक पर सवार बदमाश अपने साथियों को कवर देते रहे‌।

गैंगस्टर एक्ट का आरोपी है मास्टरमाइंड सुधाकर, बूथ कैप्चरिंग में जा चुका है जेल
घटना का मास्टरमाइंड सुधाकर पांडेय पंचायत चुनाव के दौरान बूथ कैप्चरिंग के मामले में जेल जा चुका है‌। उसके खिलाफ बस्ती जिले के कलवारी थाने में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज है‌। एसपी ने बताया कि अन्य आरोपियों के आपराधिक इतिहास के बारे में छानबीन की जा रही है‌।

ये भी पढ़ें -यूएनएचसीआर के प्रमुख ने अफगान शरणार्थियों के मुद्दे पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से की बात

ताजा समाचार

Exclusive: 50 मिनट में कानपुर से लखनऊ पहुंचाएगी हाई स्पीड वंदे भारत मेट्रो; बिना लोकोमोटिव इंजन के मिनटों में भरेगी तेज रफ्तार
जेल से रिहा होने पर बोले उदयभान करवरिया- राजनीतिक षडयंत्र के चलते काटनी पड़ी 10 साल जेल में सजा
Kairana सांसद Iqra Hasan का Parliament में पहला भाषण, Rail Mantri से कर दी ये मांग | SP MP इकरा हसन
बहराइच: पेट्रोल पम्प से 3 लाख की नकदी ले उड़े बेखौफ चोर, जांच में जुटी पुलिस
OLA से मिल रही चुनौती के बीच Google Maps ने भारत में कई नई सुविधाएं कीं पेश 
बरेली: रक्षाबंधन की तैयारियां शुरू...राखी बनाने में जुटे परिवार, बच्चों के लिए सुपर हीरो और गुड्डे वाले पर्स की राखियां