पीलीभीत: कोरोना सैंपलों में हुई लापरवाही की नहीं शुरू हो सकी जांच

पीलीभीत: कोरोना सैंपलों में हुई लापरवाही की नहीं शुरू हो सकी जांच

पीलीभीत, अमृत विचार। मरीजों का सैंपल लेने के 12 दिन बाद भी जांच के लिए लैब न भेजने की लापरवाही को भी जिम्मेदारों ने हवा में उड़ा दिया। मामला खुलने के बाद भी अभी तक इसमें कोई कार्रवाई न हो सकी और न जांच शुरू हुई है। हालांकि लापरवाही की पोल खुलने के बाद जांच …

पीलीभीत, अमृत विचार। मरीजों का सैंपल लेने के 12 दिन बाद भी जांच के लिए लैब न भेजने की लापरवाही को भी जिम्मेदारों ने हवा में उड़ा दिया। मामला खुलने के बाद भी अभी तक इसमें कोई कार्रवाई न हो सकी और न जांच शुरू हुई है। हालांकि लापरवाही की पोल खुलने के बाद जांच के बाद सैंपलों को शाम तक मुख्यालय भेजना शुरू कर दिया गया है। पूरनपुर सीएचसी में आने वाले मरीजों का कोरोना सैंपल लिया जा रहा है। इसके लिए टीम को भी लगाया गया है जो सैंपल लेकर सूची के साथ अस्पताल में देते हैं।

इसके बाद संबंधित कर्मी जांच के बाद नियमानुसार लाइन लिस्ट बनाकर बीएसएल लैब को भेजा जाना था। यहां पर सैंपलों को डंप कर दिया गया और जांच के लिए ही नहीं भेजा गया था। 22 जुलाई के बाद सभी सैंपलों को कार्टून में ही रख दिया गया। लापरवाही की पोल खुलने के बाद जब सीडीओ ने सीएमओ से जानकारी ली तो दूसरे दिन ही सैंपलों को लैब भेज दिया गया।

सीएमओ ने जांच कराने की बात तो कही लेकिन अभी तक इसमें न तो जांच ही शुरू हो सकी और न कार्रवाई हो सकी है। जांच न होने से आशंका है कि इस गंभीर मामले को भी दबाने का प्रयास किया जा रहा है। इधर, मामला खुलने के बाद सैंपल देने वालों की बेचैनी भी बढ़ी हुई है।

ये भी पढ़ें – पीलीभीत: पुलिस ने दर्ज की रिपोर्ट, ग्रामीण बोले- लिख दी फर्जी FIR

Post Comment

Comment List