सहारनपुर पहुंचे पूर्व राष्ट्रपति कोविंद, जुगाड़ प्रदर्शनी में देखे छात्रों के मॉडल, कही बड़ी बात

सहारनपुर पहुंचे पूर्व राष्ट्रपति कोविंद, जुगाड़ प्रदर्शनी में देखे छात्रों के मॉडल, कही बड़ी बात

सहारनपुर। पूर्व राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने सहारनपुर के शोभित यूनिवर्सिटी गंगोह में इंजीनियरिंग छात्रों द्वारा लगाई गई जुगाड़ प्रदर्शनी का अवलोकन कर छात्रों का उत्साहवर्द्धन करते हुए कहा कि देश में प्रतिभाओं की कमी नहीं है केवल उन्हें निखारने के लिए एक सशक्त मंच की आवश्यकता है। पूर्व राष्ट्रपति दो दिवसीय दौरे पर रविवार को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर पहुंचे। 

राम नाथ कोविंद का शोभित यूनिवर्सिटी गंगोह पहुंचने पर गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया और उन्होंने यूनिवर्सिटी में इंजीनियरिंग छात्रों द्वारा लगाई गई जुगाड प्रदर्शनी का अवलोकन कर छात्रों का उत्साहवर्द्धन किया। शोभित यूनिवर्सिटी गंगोह में पूर्व राष्ट्रपति का काफिला दोपहर ढाई बजे पहुंचा। जहां उनका भव्य स्वागत किया गया। कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच रंग बिरंगे झंडों से सुसज्जित बाबू विजेन्द्र मार्ग से होते हुए पूर्व राष्ट्रपति कोविंद शोभित विश्वविद्यालय पहुंचे।

जहां उनका चांसलर कुंवर शेखर विजेन्द्र, वाईस चांसलर डॉ. रणजीत सिंह और रजिस्ट्रार प्रो. महीपाल सिंह एवं शोभित परिवार के सदस्यों ने गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। एनसीसी कैडेट्स ने पूर्व राष्ट्रपति को सलामी दी। वह सीधे एडमिन ब्लॉक में गए। जहां कुछ पल विश्राम उपरान्त उन्होंने मैकेनिकल एवं इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के छात्रों द्वारा लगाई गई जुगाड़ प्रदर्शनी का अवलोकन किया।

पूर्व राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने ग्रामीण अंचलों में रहने वाले भावी इंजीनियरों द्वारा बनाए गए एक से बढ़कर एक मॉडल की प्रशंसा करते हुए कहा कि भारत के अंदर प्रतिभाओं की कमी नहीं है केवल उन्हें निखारने के लिए एक सशक्त मंच की आवश्यकता है। उन्होंने चांसलर कुंवर शेखर को देश के अंदर छुपी प्रतिभाओं को अवसर देने के लिए साधुवाद और भावी इंजीनियरों को प्रोत्साहित किया।

पूर्व राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद सोमवार को जनमंच सहारनपुर में नगर निगम और मोक्षायतन योग संस्थान द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित समारोह में तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ. राधाकृष्णन द्वारा 1966-67 के राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित चिंतन एवं समाज सुधारक पंडित विशंबर सिंह द्वार एवं मार्ग का उनके पुत्र पदमश्री योग गुरू भारत भूषण जी की उपस्थिति में लोकार्पण करेंगे।

उसके बाद वह राजेंद्र अटल के प्रकृति कुंज में अमृत सरोवर का उद्घाटन करेंगे और राजेंद्र अग्रवाल अटल के पिता प्रख्यात स्वतंत्रता सेनानी पूरण चंद आर्य पर आधारित प्रदर्शनी का लोकार्पण करेंगे। जहां वह पूर्व में प्रकृति कुंज में पूर्व राष्ट्रपति परिवार समेत पहले भी पधार चुके है।

Post Comment

Comment List