शेष भारत ने सौराष्ट्र को आठ विकेट से हराकर 29वीं बार जीता ईरानी कप

शेष भारत ने सौराष्ट्र को आठ विकेट से हराकर 29वीं बार जीता ईरानी कप

राजकोट। शेष भारत ने जयदेव उनाडकट (89) के जुझारू अर्द्धशतक के बावजूद यहां मंगलवार को ईरानी ट्रॉफी 2022 के फाइनल के चौथे दिन सौराष्ट्र को आठ विकेट से हराकर 29वीं बार ईरानी ट्रॉफी का खिताब जीत लिया। पहली पारी में 276 रन से पिछड़ने के बाद सौराष्ट्र ने दूसरी पारी में शेष भारत को 105 …

राजकोट। शेष भारत ने जयदेव उनाडकट (89) के जुझारू अर्द्धशतक के बावजूद यहां मंगलवार को ईरानी ट्रॉफी 2022 के फाइनल के चौथे दिन सौराष्ट्र को आठ विकेट से हराकर 29वीं बार ईरानी ट्रॉफी का खिताब जीत लिया। पहली पारी में 276 रन से पिछड़ने के बाद सौराष्ट्र ने दूसरी पारी में शेष भारत को 105 रन का लक्ष्य दिया था। शेष भारत ने यह लक्ष्य दो विकेट गंवाकर हासिल कर लिया।

रणजी ट्रॉफी 2019-20 की विजेता सौराष्ट्र ने चौथे दिन 368/8 से शुरू करते हुए आखिरी दो विकेट केवल 12 रन के बदले गंवा दिये। कुलदीप सेन (94/5) ने पहले पार्थ भुट (07) को पगबाधा किया। कप्तान उनाडकट ने 78 रन से आगे खेलते हुए 11 रन जोड़े, लेकिन अपना शतक पूरा नहीं कर सके और कुलदीप की गेंद पर विकेटकीपर श्रीकर भरत को कैच थमा बैठे। उनाडकट ने 133 गेंदों पर 10 चौकों और दो छक्कों की बदौलत 89 रन बनाये जबकि सौराष्ट्र 380 रन पर ऑलआउट हो गयी। शेष भारत के लिये 105 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरे प्रियांक पांचाल केवल दो रन बनाकर पवेलियन लौट गये।

युवा बल्लेबाज यश ढुल भी आठ रन का योगदान ही दे सके। दोनों बल्लेबाजों को उनाडकट (37/2) ने आउट किया। इसके बाद सलामी बल्लेबाज अभिमन्यु ईश्वरन (63 नाबाद) और श्रीकर भरत (27 नाबाद) ने 81 रन की साझेदारी करके शेष भारत को लक्ष्य तक पहुंचाया। ईश्वरन ने 78 गेंदों पर नौ चौकों के साथ 63 रन बनाये जबकि भरत ने 82 गेंदों पर 27 रन की संयम भरी पारी खेली, जिसमें पांच चौके शामिल थे। इससे पहले, शेष भारत ने पहली पारी में 276 रन की बढ़त लेने के लिये सौराष्ट्र को 98 रन पर ऑलआउट करके सरफराज खान (138) के शतक की बदौलत 374 रन बनाए।

ये भी पढ़ें:- अमेरिका : कैलिफोर्निया में 8 माह की बच्ची समेत भारतीय मूल के 4 लोगों के अपहण, ‘खतरनाक़ है संदिग्ध’

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement