चंद्रशेखर राव दशहरे के मौके पर राष्ट्रीय पार्टी की करेंगे घोषणा, ये हो सकता है नाम…

चंद्रशेखर राव दशहरे के मौके पर राष्ट्रीय पार्टी की करेंगे घोषणा, ये हो सकता है नाम…

हैदराबाद। तेलंगाना के मुख्यमंत्री और तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के चंद्रशेखर राव विजयादशमी के अवसर पर बुधवार दोपहर के बाद एक राष्ट्रीय पार्टी की घोषणा करेंगे। यह जानकारी पार्टी सूत्रों ने मंगलवार को दी। नई राष्ट्रीय पार्टी का नाम ‘भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस)’ हो सकता है। केसीआर ने टीआरएस की स्थापना 27 अप्रैल, …

हैदराबाद। तेलंगाना के मुख्यमंत्री और तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के चंद्रशेखर राव विजयादशमी के अवसर पर बुधवार दोपहर के बाद एक राष्ट्रीय पार्टी की घोषणा करेंगे। यह जानकारी पार्टी सूत्रों ने मंगलवार को दी। नई राष्ट्रीय पार्टी का नाम ‘भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस)’ हो सकता है। केसीआर ने टीआरएस की स्थापना 27 अप्रैल, 2001 को अलग तेलंगाना राज्य का गठन करने उद्देश्य से की थी। अब 21 वर्षों के बाद टीआरएस एक राष्ट्रीय पार्टी में परिवर्तित हो जाएगी।

ये भी पढ़ें- कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, पूर्व सांसद सुरेश चंदेल भाजपा में शामिल

टीआरएस प्रमुख अपनी नई राष्ट्रीय पार्टी के एजेंडे की घोषणा भी कर सकते है। इसमें तेलंगाना राज्य में चल रहे विकास कार्यों सहित किसानों को मुफ्त बिजली और रायथु बंधु योजना को शामिल किया जा सकता है, जिससे एक वर्ष में दो फसलों के लिए किसानों को सहायता प्रदान की जाती है। सूत्रों के अनुसार, कल होने वाली बैठक में प्रतिभागियों के हस्ताक्षर के साथ अपनाया गया प्रस्तावित पार्टी का नाम भारत के निर्वाचन आयोग को पंजीकरण के लिए दिया जाएगा।

आधिकारिक रूप से बीआरएस की शुरूआत करने के लिए मुख्यमंत्री केसीआर दिल्ली में एक विशाल रैली करने की योजना बना रहे हैं। सूत्रों ने यह भी कहा कि केसीआर देशव्यापी दौरा करेंगे जिसके लिए वे 12 सीटों वाले विमान का उपयोग करेंगे। केसीआर की नई पार्टी 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ेगी और इससे पहले होने वाले कुछ राज्यों का चुनाव भी लड़ेगी।

रविवार को केसीआर ने अपने कैबिनेट सहयोगियों और पार्टी के सभी 33 जिलाध्यक्षों के साथ एक बैठक की। जिसमें उन्होंने राष्ट्रीय पार्टी के गठन पर चर्चा की और कहा कि देश में भारतीय जनता पार्टी का ‘कुशासन’ समाप्त करने के लिए एक राष्ट्रीय पार्टी की आवश्यकता है। सूत्रों के अनुसार, बीआरएस के झंडे में टीआरएस के गुलाबी रंग और कार के प्रतीक को रखा जा सकता है लेकिन बीआरएस के झंडे में तेलंगाना के बदले भारत का नक्शा डाला जाएगा।

ये भी पढ़ें- राजस्थान में सरकार की घोषणाओं पर हो रहा अच्छा काम: गहलोत

 

 

 

 

 

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement