बरेली: दोगुनी हुई अंडों की खपत, दाम में भी वृद्धि

जिले में सर्दी बढ़ने के साथ ही अंडे की कीमत में 3 रुपये का आया उछाल

बरेली: दोगुनी हुई अंडों की खपत, दाम में भी वृद्धि

बरेली, अमृत विचार। संडे हो या मंडे, रोज खाओ अंडे। 90 के दशक में पैदा होने वाले हर बच्चे को ये लाइन मुंह जबानी याद होगी, लेकिन अब अंडों के दामों में बढ़ोतरी होने पर स्थिति थोड़ी बदलती नजर आ रही है। 15 दिन पहले तक अंडा पांच रुपये प्रति पीस बिक रहा था। उबले हुए अंडे का भाव छह रुपये था। वहीं देसी अंडा दस रुपये प्रति पीस के हिसाब से बिक रहा था। शहर में बहुत से लोग अपने दिन की शुरुआत अंडे के साथ करते हैं।

ये भी पढ़ें- बरेली: कलश यात्रा के साथ श्रीमद् भागवत कथा आरंभ, बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने लिया भाग

ठंड में शरीर में गर्मी लाने के लिए अंडे खाते हैं। नवंबर के अंतिम सप्ताह तक शहर में अंडे की एक पेटी 900 रुपये में बिक रही थी। दिसंबर आरंभ होने से पहले ठंडी बढ़ने से अंडे के दाम में तेजी आने लगी है। इस समय अंडे की एक पेटी 1120 रुपये की हो गई है। सर्दी बढ़ने के कारण अंडे की खपत 40 फीसदी तक बढ़ गई है। थोक बाजार में अंडे के दाम बढ़ने का असर फुटकर बाजार पर भी पड़ा है। इस समय अंडा छह से साढ़े सात रुपये प्रति पीस मिल रहा है। शहर में प्रति दिन पांच हजार अंडे की खपत बताई जा रही है।

बरेली में पंजाब से आता है अंडा
अंडे के थोक कारोबारी सुभाष ने बताया कि बरेली में सबसे ज्यादा अंडा पंजाब से आता है। इसके अलावा काशीपुर से भी अंडा आता है। सर्दी में अंडे की मांग गर्मी की तुलना में करीब दोगुनी हो जाती है। शहर में अंडे के लगभग 10 से अधिक थोक व्यापारी है। शहर में अंडों के करीब 400 ठेला लगते हैं। अंडे खाने वाले लोगों की कमी नहीं है। तभी तो शहर में हर जगह अंडे की दुकान और ठेली लगी दिख रहे हैं। वहीं, शाहमतगंज के थोक व्यापारी इमरान ने बताया कि सर्दी बढ़ते ही अंडे की खपत में 40 से 45 फीसदी तक की वृद्धि हुई है।

सीएआरआई में भी बढ़ी अंडों की खपत
केंद्रीय पक्षी अनुसंधान संस्थान परिसर में भी अंडों की खपत बढ़ गई। परिसर में आने वाले अंडों में करीब 50 प्रतिशत अंडे हैचिंग के लिए पहुंच रहे है। 50 प्रतिशत अंडों की ही बिक्री हो पा रही है। जिससे महज दो घंटे में ही अंडे खत्म हो जा रहे है। परिसर में सुबह 9:30 बजे काउंटर खोला जा रहा है। सीएआरआई प्रबंधन के अनुसार जल्द ही अंडे हैंचिंग के लिए भेजना बंद होंगे। जिसके बाद अंडे की सप्लाई सामान्य हो जाएगी।

ये भी पढ़ें- बरेली: 300 बेड अस्पताल में शुरू हुईं तीन नए विभागों की ओपीडी

Related Posts

Post Comment

Comment List