हल्द्वानी: 'सीबीआई से मैंने पकड़वाया था दरोगा, ये रेलवे स्टेशन मेरा है'

हल्द्वानी: 'सीबीआई से मैंने पकड़वाया था दरोगा, ये रेलवे स्टेशन मेरा है'

हल्द्वानी, अमृत विचार। शराब पीकर एक व्यक्ति ने जीआरपी चौकी हल्द्वानी में जमकर हंगामा काटा। उसने सीबीआई की नाम लेकर न सिर्फ रौब गांठा बल्कि अपनी बहनों को बड़ा अधिकारी बता कर डराया भी। हद तो तब हो गई, जब उसने यह कह दिया कि हल्द्वानी रेलवे स्टेशन उसकी संपत्ति है। जीआरपी काठगोदाम ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

जीआरपी चौकी हल्द्वानी में तैनात कांस्टेबल धर्मेंद्र सिंह यादव के मुताबिक बीती 18 मई को वह ड्यूटी पर था। शाम करीब साढ़े सात बजे एक व्यक्ति नशे की हालत में बिना अनुमति चौकी में जबरदस्ती घुस आया। उससे आने का कारण पूछा तो वह चीखने-चिल्लाने लगा। शोर सुनकर बीट पर तैनात गोविन्द बल्लभ भी मौके पर पहुंच गया। नशे में धुत युवक गाली-गलौज करने और धमकी देने लगा।

बोला, मैं वही इरशाद अहमद हूं जिसने पहले वाले दरोगा दिनेश मीना को सीबीआई से ट्रेप करवाया था। ये स्टेशन मेरा है और मैं तुम सभी को झूठी गवाही देकर सीबीआई से गिरफ्तार करवा दूंगा। बोला, मैं करोड़पति आदमी हूं और ये स्टेशन मेरी सम्पत्ति है। सीबीआई के सामने जब भी मेरा बयान होगा तो मैं किसी का भी झूठा नाम लेकर फंसा सकता हूं। मेरी बहन सुप्रीम कोर्ट में है और एक बहन हाईकोर्ट में। मेरी तीसरी बहन जिला मजिस्ट्रेट है।

बार-बार समझाने के बाद भी जब वह नहीं माना तो उसे गिरफ्तार करने की कोशिश की गई, लेकिन शातिर भाग निकला। जीआरपी काठगोदाम के मुताबिक आरोपी टैक्सी ड्राइवर इरशाद अहमद पुत्र जमील अहमद निवासी लाइन नंबर 17 आजाद नगर बनभूलपूरा के खिलाफ नशे की हालत में न्यूसेंस करते हुए सरकारी व रेल कार्य में बाधा उत्पन्न करने व धमकाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। 

ताजा समाचार