हल्द्वानी: अमृत विचार के युवा पत्रकार राहुल जोशी का निधन

हल्द्वानी: अमृत विचार के युवा पत्रकार राहुल जोशी का निधन

हल्द्वानी, अमृत विचार। बड़े दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि अमृत विचार संस्थान हल्द्वानी में कार्यरत हमारे युवा साथी राहुल जोशी का निधन हो गया है। बुधवार रात 9:30 बजे बृजलाल हॉस्पिटल हल्द्वानी में उन्होंने अंतिम सांस ली। कोरोना संक्रमण के चलते कई दिन से वह अस्पताल में भर्ती थे। आज यानि …

हल्द्वानी, अमृत विचार। बड़े दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि अमृत विचार संस्थान हल्द्वानी में कार्यरत हमारे युवा साथी राहुल जोशी का निधन हो गया है। बुधवार रात 9:30 बजे बृजलाल हॉस्पिटल हल्द्वानी में उन्होंने अंतिम सांस ली। कोरोना संक्रमण के चलते कई दिन से वह अस्पताल में भर्ती थे। आज यानि गुरुवार को गौलापार स्थित श्मशान घाट में उनका अंतिम संस्कार किया गया, जहां उनके जीजा मनोज पंत ने उन्हें मुखाग्नि दी।

एक होनहार पत्रकार के निधन पर पूरे पत्रकार जगत में शोक की लहर है। शहर के तमाम पत्रकारों ने उनके निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। 17 अप्रैल को रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद वह मोटाहल्दू कोविड केयर सेंटर में भर्ती हुए, जहां तीन दिन रहने के बाद उनका ऑक्सीजन लेवल डाउन हो जाने पर उन्हें उनके परिजनों ने बृजलाल हॉस्पिटल में भर्ती कराया था।

एक परिचय

32 वर्षीय राहुल ने वर्ष 2015 में अपने पत्रकार कॅरियर की शुरुआत जनपक्ष समाचार पत्र हल्द्वानी से की थी। उसके बाद उन्होंने दूसरी पारी हिंदुस्तान अखबार रुद्रपुर से शुरू की। अमृत विचार समाचार पत्र में अक्टूबर वर्ष 2020 में उन्होंने ज्वॉइन किया था। वह कार्य के प्रति हमेशा समर्पित रहे। खबरों के दबाव के बीच भी राहुल के चेहरे पर हमेशा मुस्कुराहट रहती थी। वह हमेशा अपने साथियों की मदद और सहयोग के लिए तैयार रहते थे। अमृत विचार को स्थापित करने में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा। परिवार के वह इकलौते पुत्र थे, उनकी बड़ी बहन का विवाह हो चुका है। राहुल का विवाह हाल ही में जनवरी 2021 में हुआ था। वह अपने पीछे माता-पिता और पत्नी को छोड़ गए हैं।

संस्थान कर्मी एक दिन का वेतन सहायता राशि के रूप में देंगे

अमृत विचार के प्रधान संपादक श्री शंभू दयाल वाजपेई ने राहुल जोशी के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए कहा कि युवा ऊर्जावान रिपोर्टर का असमय जाना अमृत विचार परिवार के लिए बड़ा आघात है। हम सब की संवेदनाएं इस दुख की घड़ी में राहुल के परिवार के साथ हैं। उन्होंने कहा कि इस समय संक्रमित होने के कारण वह स्वयं हल्द्वानी पहुंचने में असमर्थ हैं। उन्हाेंने घोषणा कि है कि अमृत विचार के सभी संस्करणों के सहयोगी एक दिन का वेतन राहुल के परिवार को सहायतार्थ देंगे।

 

अभी नौकरी पाओ