बरेली: बिना दिवाली के सिविल लाइंस और राजेंद्र नगर क्षेत्र की हवा खराब, जल्द होगा सर्वे

शुक्रवार को सिविल लाइंस क्षेत्र का 256 व राजेंद्र नगर क्षेत्र का 209 एक्यूआई दर्ज

बरेली: बिना दिवाली के सिविल लाइंस और राजेंद्र नगर क्षेत्र की हवा खराब, जल्द होगा सर्वे

बरेली, अमृत विचार अब न तो दिवाली के पटाखे छूट रहे हैं और न ही पराली जल रही है, इसके बावजूद शहर की आबोहवा खराब हो रही है। वायु प्रदूषण के बढ़ने से हर कोई चिंतित है। वायुमंडल में घुल रही जहरीली हवा पर नियंत्रण नहीं हो पा रहा है। एक हफ्ते से अब राजेंद्र नगर व आसपास के क्षेत्र की हवा निरंतर दूषित बनी हुई है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी भी वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ने पर चिंता जता रहे हैं। अधिकारियाें ने क्षेत्र का सर्वे कराकर आवश्यक कार्रवाई कराने की बात कही है।

ये भी पढ़ें- बरेली: शाहजहांपुर में डेंगू का प्रकोप कम, बदायूं में सबसे अधिक

शुक्रवार को सिविल लाइंस सहित आसपास के क्षेत्र का वायु गुणवत्ता सूचकांक 256 तक पहुंच गया। जबकि राजेंद्र नगर और आसपास के क्षेत्रों में वायु की गुणवत्ता अधिकतम 209 दर्ज गई । राजेंद्र नगर क्षेत्र में एक्यूआई (एयर क्वालिटी इंडेक्स) का स्तर बढ़ने पर अधिकारी चिंता जता रहे हैं। सिविल लाइंस, चौकी चौराहा, चौपुला, बिहारीपुर आदि सहित कई क्षेत्रों में निर्माण कार्य व्यापक स्तर पर कराए जा रहे हैं।

इस कारण धूल के गुबार उड़ने व वाहनों के जाम से वायु की गुणवत्ता काफी प्रभावित होती है। राजेंद्र नगर में व्यापक स्तर पर कोई निर्माण कार्य नहीं कराया जा रहा है और न ही इस क्षेत्र में वाहनों का बहुत ज्यादा जाम लगता है। विभागीय अधिकारी भी राजेंद्र नगर में वायु गुणवत्ता सूचकांक के आंकड़ों की बढ़ोतरी से हतप्रभ हैं। जल्द से जल्द सर्वे कर आवश्यक कार्रवाई करने की बात कह रहे हैं।

बीते पांच दिनों में क्षेत्र में वायु गुणवत्ता की स्थिति (एक्यूआई में)

तारीख            सिविल लाइंस राजेंद्र नगर

20 नवंबर 169             157

21 नवंबर 122             143

22 नवंबर 98                240

23 नवंबर 105             145

24 नवंबर 106             162

25 नवंबर 256             209

राजेंद्र नगर क्षेत्र में वायु प्रदूषण का बढ़ना चिंता का विषय है। लेकिन इन दिनों शहर भर में निर्माण कार्यों के चलते रूट भी डायवर्ट किया गया है। ऐसे में क्षेत्र में भी वाहनों की आवाजाही पूर्व की अपेक्षा बढ़ी है। क्षेत्र का सर्वे कर रिपोर्ट तैयार कराई जाएगी। प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए संबंधित विभागों को भी पत्र जारी किया जाएगा- रोहित सिंह, क्षेत्रिय अधिकारी, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड

ये भी पढ़ें- बरेली: निकाय चुनाव में 172 आरओ-एआरओ संभालेंगे जिम्मेदारी

Related Posts

Post Comment

Comment List