संसद में पहले माइक बंद होता था, आज सीधे प्रसारण में आवाज दबा दी : कांग्रेस

संसद में पहले माइक बंद होता था, आज सीधे प्रसारण में आवाज दबा दी : कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने संसद के सीधे प्रसारण की कार्यवाही के दौरान आवाज नहीं आने को लेकर गुरुवार को कहा कि सरकार अडानी मामले में घिर गई है इसलिए संसद में पहले माइक बंद होता था लेकिन अब पूरी कार्यवाही के प्रसारण को ही बाधित किया जा रहा है। कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर इसको लेकर सरकार पर करारा हमला किया और कहा “पहले माइक ऑफ होता था, आज सदन की कार्यवाही ही म्यूट करा दी।

ये भी पढ़ें - छोटे निवेशकों के बजाय अडाणी समूह के हितों की रक्षा के लिए क्यों खड़ा है सेबी: कांग्रेस

प्रधानमंत्री मोदी के मित्र के लिए सदन म्यूट है।” पार्टी ने कहा “नारे लगे- राहुल जी को बोलने दो... बोलने दो.. बोलने दो। फिर ओम बिड़ला मुस्कुराए और सदन म्यूट हो गया। ये लोकतंत्र है। अडानी को बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब तक क्या-क्या किया।

स्पीच हटवाई, जेपीसी का गठन नहीं, संसद में बोलने पर रोक, सदन स्थगित किया गया, ईडी दफ्तर जाने पर रोक, संसद में माइक ऑफ किया गया और आज...संसद को ही म्यूट कर दिया गया।” राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी सदन की कार्यवाही बाधित करने को लेकर सरकार पर हमला किया और कहा, “जनता द्वारा चुने गए सांसदों को संसद में बोलने का अवसर ना देना और लोकसभा की कार्यवाही म्यूट करवाना लोकतांत्रिक परंपराओं के खिलाफ है। यह देशवासियों की आवाज शांत करने का प्रयास है।

क्या इसे स्वस्थ लोकतंत्र कहा जा सकता है। इन्हीं मुद्दों को लेकर राहुल जी ने भारत जोड़ो यात्रा की थी।” छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा “वे परेशान थे कि राहुल गांधी जी ने क्यों कहा कि विपक्षी सदस्यों के माइक बंद कर दिए जाते हैं। आज तो लोकसभा ही म्यूट कर दिया गया। और क्या सबूत चाहिए।”

ये भी पढ़ें - राहुल गांधी को नहीं, PM मोदी को मांगनी चाहिए माफी : मल्लिकार्जुन खडगे

Post Comment

Comment List

ताजा समाचार

बहराइच: गवाही देना पड़ा भारी, नाराज भतीजे ने साथियों संग लाठी और बांके से किया हमला, दो गंभीर
अयोध्या-रायबरेली मार्ग पर अब हर घंटे चलेगी रोडवेज बस
संजय गांधी अस्पताल के लाइसेंस निलंबन पर बोलीं स्‍मृति ईरानी- कांग्रेस अपना मुनाफा बंद होने पर रो रही है
बरेली: अंजुमन के जुलूस में DJ बजाने के लिए परमिशन की मांग, धार्मिक संगठन पर डराने का आरोप
लखीमपुर खीरी हिंसा मामला: केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा को दिल्ली जाने की छूट, SC ने इसलिए दी इजाजत
सीतापुर: बंदर को बचाने में बाइक अनियंत्रित होकर वैन से टकराई, शिक्षक की मौत, पत्नी गंभीर

Advertisement