पर्यटकों के लिए खुशखबरी! कतर्नियाघाट वन्यजीव प्रभाग के पर्यटन सत्र का हुआ शुभारंभ, कम शुल्क में उठा सकेंगे जंगल सफारी का लुत्फ

पर्यटकों के लिए खुशखबरी! कतर्नियाघाट वन्यजीव प्रभाग के पर्यटन सत्र का हुआ शुभारंभ, कम शुल्क में उठा सकेंगे जंगल सफारी का लुत्फ

बहराइच, अमृत विचार। कतर्नियाघाट वन्यजीव प्रभाग के पर्यटन सत्र का शुभारंभ बुधवार श्रावस्ती सहकारी चीनी मिल के महा प्रबंधक ने फीता काटकर उद्घाटन किया। इस दौरान पुजारी की ओर से पूजा अर्चना भी कराई गई। नए पर्यटन सत्र में कम शुल्क में पर्यटक बोटिंग और जंगल सफारी का लुत्फ उठा सकेंगे। कतर्नियाघाट में पर्यटन सत्र की शुरुआत बुधवार से शुरू हो गई है।

हवन पूजन के बाद शुभारम्भ चीनीमिल के जीएम यमुनाधर चौहान ने फीता काटकर किया। इसके बाद स्कूल से आये सभी बच्चो को सफारी गाडी मे बैठाकर जंगल घुमाया गया। इस बार टिकट की कीमत कम होने से पर्यटकों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है। कतर्नियाघाट वन्य जीव विहार की प्राकृतिक सुंदरता पर्यटकों को खूब रास आती है। पूरे भारत के साथ काफी संख्या में विदेशी पर्यटक कतर्नियाघाट का दीदार करने आते हैं। 

भारत-नेपाल सीमा से सटे 551 वर्ग किलोमीटर के जंगल में विभिन्न तरह के जंगली जानवर बाघ, हाथी, तेंदुआ, चीता, हिरन, बारासिंघा, पाडा, साइबेरियन पक्षी तथा गेरुहा नदी में अटखेलियां करती डालफिन, मगरमच्छ, घड़ियाल के साथ यहां के जंगल में शंख पुष्पी जैसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां पायी जाती हैं। इस मौक़े पर उपप्रभागीय वनाधिकारी रमेश चौहान, अभय प्रताप सिंह व सभी रेंज क़े रेंजर  स्थानीय ग्रामीण व स्कूली बच्चे उपस्थिति रहे।

मोतीपुर से कतर्नियाघाट तक सफारी की नई सेवा शुरू
कतर्नियाघाट घूमने आने वाले पर्यटकों को बहराइच से कतर्नियाघाट तक 110 किलोमीटर जाने के लिए प्राइवेट बस या निजी वाहन ही एक मात्र सहारा थे। इससे पर्यटकों को असुविधा होती थी। वन निगम ने नई पहल करते हुए मोतीपुर से कतर्नियाघाट यानी 50 किलोमीटर तक पर्यटकों को ले जाने के लिए तीन गाड़ियां लगाई है। इससे कतर्नियाघाट आने वाले सैलानियों को काफी सहूलियत मिलेगी।

इनका निःशुल्क रहेगा प्रवेश 
वन निगम के प्रबंधक अक्षत सिंह ने बताया कि पांच साल तक बच्चों का प्रवेश निशुल्क पांच साल से कम उम्र के स्कूली बच्चों का इस बार कतर्नियाघाट में प्रवेश शुल्क निशुल्क रहेगा। वयस्कों के रेट भी आधे कर दिए गए हैं। पहले प्रति व्यक्ति 300 रुपये लिया जाता था, अब सिर्फ 150 रुपये लिया जाएगा। सफारी का शुल्क 2000 रुपये था, उसकी जगह उसे 500 रुपये कर दिया गया है। नौकायन प्रति घंटा प्रति व्यक्ति 250 रुपये के स्थान पर 100 रुपये कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें;-प्रयागराज: युवक की पिकअप से कुचलकर हत्या, शराब के नशे में साथियों से हुआ था झगड़ा

ताजा समाचार

बोर्ड परीक्षा को लेकर लखनऊ पुलिस ने कसी कमर, रात 10 से लेकर सुबह 6 बजे तक डीजे पर लगाई रोक
Good News: गन्ने खरीद की कीमत में 8 फीसदी की बढ़ोतरी, मोदी सरकार का बड़ा फैसला
लखनऊ: डीजीपी प्रशांत कुमार ने पुलिस को दिया भावुक संदेश, फोर्स को दिलाई कर्तव्यनिष्ठा की याद
प्रयागराज: तय तारीखों पर गैरहाजिर रहने वाले अधिवक्ताओं पर हाईकोर्ट हुआ सख्त, की यह सख्त टिप्पणी... 
पीजीआई एपेक्स ट्रामा : मरीज देखने पहुंचे तीमारदारों का हंगामा, डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों से मारपीट का लगा आरोप
आगरा: जीशान से दीपक बनकर तीन साल तक लूटता रहा अस्मत, अब दे रहा नाबालिग को धमकी