बरेली: समाज के अंतिम व्यक्ति को बुनियादी सुविधाओं से जोड़ना यात्रा का मकसद

बरेली: समाज के अंतिम व्यक्ति को बुनियादी सुविधाओं से जोड़ना यात्रा का मकसद

बरेली, अमृत विचार। केंद्र सरकार की विकसित भारत संकल्प यात्रा का लाभ हर गांव-गांव तक पहुंचाने की मंशा को लेकर गुरुवार को रक्षा मंत्रालय के निदेशक डॉ. निखिल सक्सेना बरेली पहुंचे। यात्रा को सफल बनाने के लिए उन्होंने विकास भवन में अफसरों के साथ बैठक कर रणनीति बनाई। उन्हें संकल्प यात्रा बरेली का नोडल अधिकारी भी बनाया गया है।

उन्होंने बैठक में कहा कि सरकार की जितनी भी योजनाएं चल रहीं हैं, उनका लाभ हर व्यक्ति को मिल रहा है या नहीं, इस अभियान के जरिए इस बात की जानकारी की जाएगी। लोगों को जागरूक करने के साथ उन्हें बुनियादी सुविधाओं का लाभ दिलाया जाएगा। पात्र होने के बाद योजना से वंचित लोगों को जोड़ा जाएगा।

विकसित भारत संकल्प यात्रा हर गांव, नगर में जाएगी। बरेली में 20 नवंबर को इस यात्रा की शुरुआत होनी है, जो 26 जनवरी 2024 तक चलेगी, जिसमें समाज के अंतिम व्यक्ति तक योजना का लाभ आसानी से पहुंचाने की कोशिश होगी।

हर दिन का नोडल अधिकारी नामित किया जाए और जिम्मेदारी के साथ कार्यक्रम कराएं। रोजाना की गतिविधियों को उसी दिन अपलोड करेंगे। कैंप लगाकर लोगों की समस्याओं को दूर करने पर जोर दिया। उन्हें भारत संकल्प यात्रा बरेली का नोडल अधिकारी बनाया गया है। सीडीओ जग प्रवेश, नगर आयुक्त निधि गुप्ता वत्स, वनाधिकारी समीर कुमार, एडीएम प्रशासन दिनेश, सीएमओ विश्राम सिंह आदि अधिकारी रहे।

दस एलईडी वैन करेंगी प्रचार, समितियों का हुआ गठन
बैठक में सीडीओ ने कहा कि प्रचार-प्रसार के लिए 10 एलईडी वैन रहेंगी। एक दिन में दो ग्राम पंचायत या दो वार्डाें में प्रचार-प्रसार किया जाएगा, इसमें केंद्र सरकार की ओर से संचालित करीब 30 से अधिक शहरी और ग्रामीण याेजनाओं के बारे में हर व्यक्ति को जानकारी देकर जागरूक किया जाएगा।

गांव में कार्यक्रम के दौरान स्कूली बच्चे प्रतिभाग करेंगे। सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। इसके लिए जिला, ग्राम पंचायत, नगरीय निकाय स्तर पर समितियाें का गठन हो चुका है। कंट्रोल रूप भी बनाया जा चुका है।

ये भी पढ़ें : बरेली: दो साल से मनरेगा कार्मिकों के भविष्य निधि खाते में नहीं पहुंच रहा अंशदान

Online Jobs Apply