Bareilly News: वित्तीय वर्ष खत्म होने में बचे 32 दिन, कई सड़कों के अभी तक नहीं हो पाए टेंडर

Bareilly News: वित्तीय वर्ष खत्म होने में बचे 32 दिन, कई सड़कों के अभी तक नहीं हो पाए टेंडर

बरेली, अमृत विचार। वित्तीय वर्ष 2023-24 खत्म होने में 32 दिन बचे हैं, मगर कई सड़कों के टेंडर अभी तक नहीं हो सके हैं। लोक निर्माण विभाग के प्रांतीय खंड के अफसरों का दावा है कि अधिकांश सड़कें के लिए टेंडर की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। कुछ जगहों पर निर्माण शुरू हो चुका है, मगर अभी तक सड़कों की बदहाली दूर नहीं हो पाई है। लोगों को आवाजाही में दिक्कत हो रही है।

शासन से जिले की छोटे-बड़ी 207 सड़कों के लिए 60 करोड़ रुपये विभाग को मिल चुका है। अफसरों के अनुसार इस रकम से ग्रामीण क्षेत्र की बदहाल 170 सड़कों की विशेष मरम्मत की जानी है। टेंडर प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। नाथ कारिडोर योजना में शामिल शहर के सात मंदिरों के प्रमुख मार्ग जोड़ने वाली 11 सड़कें भी इसमें शामिल हैं। इन सभी सड़कों पर काम चल रहा है। 

जबकि गन्ना विभाग की 26 सड़कों के निर्माण के लिए अभी 40 फीसदी पैसा ही विभाग को को मिला है। एक्सईएन नारायण सिंह का कहना है कि गन्ना विभाग के अधिकांश सड़कें टेंडर प्रक्रिया पूरी नहीं होने की वजह से अधूरी पड़ी हैं। विशेष मरम्मत की सड़कों पर काम पिछले महीने शुरू कर दिया गया था। दावा है कि 31 मार्च तक सभी सड़कों पर निर्माण और मरम्मत का कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

एसएचएआई भी कराएगा बदहाल सड़कों की मरम्मत
बरेली-सीतापुर और दिल्ली मार्ग पर कई जगह गड्ढे हैं। इन रास्तों से शिवभक्त कांवड़ लेकर गुजरेंगे। नंगे पांव उन्हें दिक्कत न हो, इसलिए एनएचएआई ने सड़क की मरम्मत कराने की तैयारी पूर कर ली है।

सड़क चौड़ीकरण 31 मार्च तक पूरा हो जाएगा
लालफाटक से बदायूं मार्ग को जोड़ने वाली 4.3 किमी लंबी सड़क के चौड़ीकरण का काम मार्च में पूरा हो जाएगा। टू लेन मार्ग को फोरलेन कर दिया गया है। सड़क के बीच में डेढ़ मीटर चौड़ा डिवाइडर बन रहा है।

ये भी पढे़ं- बरेली: आईएमसी राष्ट्रीय सचिव डॉ  नफीस के परिवार पर जानलेवा हमला,बेटों को दी झूठे केस में फसाने की धमकी

 

ताजा समाचार