मोहिनी हत्याकांड : पूर्व आईएएस की पत्नी की हत्या कर चालकों ने गोमती में फेंका पेंचकस और मोबाइल

मोहिनी हत्याकांड : पूर्व आईएएस की पत्नी की हत्या कर चालकों ने गोमती में फेंका पेंचकस और मोबाइल

अमृत विचार, लखनऊ। गाजीपुर थाना अंतर्गत इंदिरानगर में पूर्व आईएएस देवेंद्र दुबे की पत्नी मोहिनी दुबे की हत्या करने के बाद हत्यारोपियों ने उनका मोबाइल गोमती नदी में फेंक दिया था। पुलिस ने हत्यारोपियों से वारदात में उपयोग किए गए पेंचकस और मोहिनी के मोबाइल के बारे में पूछताछ की तब उन्होंने बताया कि पेंचकस और मोबाइल को वह गोमतीनदी में फेंक कर फरार हो गए थे। हत्यारोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने स्थानीय गोताखोरों की मदद से नदी में कई घंटे मोबाइल और पेंचकस की तलाश की। बावजूद इसके पुलिस को सफलता नहीं मिली। 

गौरतलब है कि 25 मई की सुबह पूर्व आईएएस देवेंद्र दुबे की गैर मौजूदगी में उनके घर के भीतर घुस बदमाशों ने पत्नी मोहिनी दुबे की हत्या कर कीमती ज्वैलरी लूट फरार हो गए थे। पुलिस ने मोहिनी दुबे हत्याकांड का पर्दाफाश कर पूर्व आईएएस के निजी चालक खिलेश यादव, रवि यादव और रंजीत को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

पूछताछ के दौरान हत्यारोपियों ने पुलिस को बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद वह जी-20 रोड होते हुए अहिमामऊ चौराहे पर पहुंचे थे। इसके बाद वह कैंट के घोसियाना चले गए थे। इकाना स्टेडियम के पास के पुल पर से उन्होंने पेचकस और मृतका के मोबाइल को गोमती नदी में फेंका था, जिससे उन्होंने मोहिनी के सिर पर वार किया था।  हत्यारोपियों ने बताया कि वारदात को अन्जाम देने के बाद घटनास्थल से वह मोहिनी का मोबाइल भी उठा लाए थे। उन्होंने पहले मोहिनी के मोबाइल को बंद कर गोमती नदी में फेंक दिया था

गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई के बाद कुर्क होगी संपत्ति

सू्त्रों की मानें तो, हत्यारोपियों पर पुलिस गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई करने जा रही है। इस हत्याकांड में अभी तक पुलिस ने तीन लोगों पर हत्या और लूट की धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की है। इसके अलावा चालक अखिलेश पर आर्म्स एक्ट और हत्या के प्रयास का भी आरोप है। पुलिस की गिरफ्त से भागने के लिए चालक अखिलेश ने पुलिसकर्मियों पर गोली चलाई थी।

इसके साथ ही पुलिस गैंगस्टर एक्ट के तहत उनकी संपत्ति भी है जब्त करेगी। वहीं पूर्व आईएएस के छोटे बेटे प्रतीक का कहना है कि चालकों ने उनके परिवार को बदनाम करने की कोई कसर नहीं छोड़ी थी। अखिलेश लगातार बेटों को ही कटघरे में खड़ा कर रहा था। बेटों के बाहर रहने और घर में ज्यादा पटरी ने खाने का फायदा यह ड्राइवर उठा रहे थे।

ये भी पढ़ें -Unnao News: प्रचंड गर्मी पड़ने से लोग बेहाल...एसी, कूलर, पंखा खरीदने के लिए दुकानों में लगी भीड़

ताजा समाचार