बहराइच: डांडिया महोत्सव बना आकर्षण का केंद्र, मरी माता मंदिर परिसर में हुआ आयोजन

बहराइच: डांडिया महोत्सव बना आकर्षण का केंद्र, मरी माता मंदिर परिसर में हुआ आयोजन

बहराइच। नवरात्रि के इस पावन पर्व में जहां एक ओर पूरा शहर मां दुर्गा की आरती तथा उनकी भजनों से गुंजायमान रहता है। वहीं दूसरी तरफ मां दुर्गा के पंडालों में सांस्कृतिक, सामाजिक एवं अन्य आयोजनों की धूम रहती है। इसी क्रम में कल सरयू नदी के तट पर स्थित मरी माता के प्रांगण में …

बहराइच। नवरात्रि के इस पावन पर्व में जहां एक ओर पूरा शहर मां दुर्गा की आरती तथा उनकी भजनों से गुंजायमान रहता है। वहीं दूसरी तरफ मां दुर्गा के पंडालों में सांस्कृतिक, सामाजिक एवं अन्य आयोजनों की धूम रहती है। इसी क्रम में कल सरयू नदी के तट पर स्थित मरी माता के प्रांगण में एक भव्य डांडिया महोत्सव का आयोजन किया गया।

शहर के मरी माता मंदिर परिसर में इस बार दुर्गा पूजा समारोह में परंपरागत कार्यक्रमों के अलावा डांडिया महोत्सव का आयोजन हुआ। आयोजन के संयोजक एवं सूत्र धार समाजसेवी विकास जायसवाल धोनी रहे। आयोजन की शुरुआत मरी माता मंदिर के मुख्य पुजारी, महिला थाना की थानाध्यक्ष ने दीप प्रज्ज्वलन कर किया।

कार्यक्रम की शुरुआत होते ही पूरा प्रांगण जय माता दी तथा माता के जयकारों से गूंज उठा। गुजराती परिधान धारण किए हुए जब डांडिया का कार्यक्रम प्रारंभ हुआ तो दर्शक बरबस ही ताली बजाने के लिए मजबूर हो गए।कार्यक्रम का संचालन दिल्ली से आए हुए विशेष संचालक मनीष गुप्ता ने किया।

कार्यक्रम में हिमांशी, नेहा,पूजा, गरिमा, रूपम, सुरभि,स्वाति, साक्षी, अन्नू, कीर्ति, स्वाति (छोटी ),रोली, रिमझिम,सुषमा,मोहिनी,सानवी, हनी, सुषमा निषाद,प्रियंका, सौम्या,धार्या,अन्नपूर्णा, रोली, प्रतिमा,अनुषा, एवं रूपाली के द्वारा प्रस्तुत किए गए डांडिया नृत्य की सराहना की। कार्यक्रम में नगर विधायक अनुपमा जयसवाल, पयागपुर राजघराने के राजकुमार यश वेंद्र विक्रम सिंह के साथ नगर के सैकड़ों समाजसेवी एवं गणमान्य अतिथि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें:-बहराइच: महिलाओं ने डांडिया नृत्य प्रस्तुत कर मोहा मन, एक दिवसीय चालिहा महोत्सव हुआ संपन्न

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement