पंजाब में पैरा-मिलिट्री फ़ोर्स तैनात की जाए, एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने की मांग

पंजाब में पैरा-मिलिट्री फ़ोर्स तैनात की जाए,  एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने की मांग

चंडीगढ़। एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शांडिल्य ने आज पंजाब के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मिलकर राज्य में पैरा मिलिट्री फोर्स तथा सेना तैनात किये जाने की मांग की है। उन्होेंने पंजाब में फिर से आतंकवाद फैलाने वाली ताकतों को रोकने के लिए राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा।

ये भी पढ़ें - इस्लामिक रेजिस्टेंस काउंसिल नामक संगठन ने ली मंगलुरु धमाके की जिम्मेदारी 

दोनों के बीच तकरीबन 40 मिनट तक राज्य के हालातों पर चर्चा हुई। श्री शांडिल्य ने कहा कि पंजाब में अमृतपाल सिंह जरनैल सिंह भिंडरावाला बनकर सिख युवाओं को भड़का कर खालिस्तान के नाम पर फिर माहौल खराब करना चाहता है और इस साजिश में अमृतपाल के साथ तमाम कटटरपंथियां सहित पाकिस्तान की आईएसआई व पाकिस्तान के आतंकी संगठन और खालिस्तान मूवमेंट चलाने वाले लोगों पर केंद्र सरकार कारवाई करें।

फ्रंट के शिष्टमंडल में पंजाब प्रभारी एवं हरियाणा के अध्यक्ष कुलवंत सिंह मानकपुर, राष्ट्रीय महासचिव अंकुश उप्पल,राष्ट्रीय सचिव कश्यप शर्मा, चंडीगढ़ प्रभारी धीरज बहल, राष्ट्रीय प्रवक्ता संजीव सेठ, एडवोकेट वासु रंजन, सुरेश शर्मा, शिव आजाद मौजूद थे। फ्रंट के शिष्टमंडल ने राज्यपाल को भगवान गणेश की प्रतिमा भी सौंपी ।

शांडिल्य ने कहा कि पंजाब में जब से आम आदमी पार्टी की सरकार बनी है तब से माहौल पुन: खराब होना शुरू हो गया है और अबकी बार चेहरा अमृतपाल सिंह है जो जरनैल सिंह भिंडरावाला की मुहिम चलाकर पंजाब के हिन्दुओं को डराने की साजिश रच रहा है उसके खिलाफ पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक शब्द नहीं बोला जो गंभीर चिंता का विषय है।

उन्होंने कहा पंजाब में दिनदिहाड़े हिन्दू नेता सुधीर सुरी, डेरा सच्चा सौदा प्रेमी की हत्या कर दी जाती है और गुरदासपुर में निहंग खुलेआम हिन्दुओं को भड़का रहे हैं। जिससे स्पष्ट होता है कि आतंकी भावनाओं का पोषण पंजाब में सरकारी स्तर पर हो रहा है। इससे पहले विधानसभा चुनावों में भी आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल पर मोगा में किसी आतंकवादी के घर रुकने का आरोप लगा था।

अमृतपाल सिंह जब से आया है तब से जगह जगह जरनैल सिंह भिंडरावाला मुहिम और गन कल्चर शुरू हो चुका है। जिस तरह अमृतपाल सिंह कट्टरपंथियों तथा खालिस्तान मुहिम चलाने वालों को हवा दे रहा है उससे पंजाब का हिन्दू समाज अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहा है।

ये भी पढ़ें - PM के सभी फैसलों में संविधान और परिपाटी की धज्जियां उड़ाई जाती हैं: कांग्रेस

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement