देश के नागरिकों के लिए यह दु:ख का विषय कि प्रधानमंत्री बोलते हैं झूठ: पवन खेड़ा

देश के नागरिकों के लिए यह दु:ख का विषय कि प्रधानमंत्री बोलते हैं झूठ: पवन खेड़ा

जयपुर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के मीडिया एवं पब्लिसिटी विभाग के चेयरमैन पवन खेड़ा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए कहा है कि देश के नागरिकों के लिये यह दु:ख का विषय है कि प्रधानमंत्री झूठ बोलते हैं। खेड़ा शनिवार को यहां प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रचार के कारण कर्नाटक एवं हिमाचल प्रदेश के चुनावों में कांग्रेस के वोटों में बढ़ोत्तरी हुई थी इस स्थिति में प्रधानमंत्री कांग्रेस के लिये स्टार प्रचारक साबित हुये थे लेकिन उनकी झूठ बोलने की आदत के कारण कांग्रेस को यह दर्जा उनके लिये स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने कहा कि सुबह से शाम तक झूठ बोले, यह प्रधानमंत्री पद के लिये शोभा की बात नहीं है। उन्होंने कहा कि दु:ख की बात है और रोष का विषय भी है कि प्रधानमंत्री झूठ बोलते हैं। 

उन्होंने कहा कि देश के नागरिकों के लिये यह दु:ख का विषय है कि प्रधानमंत्री झूठ बोलते हैं इसलिये सुझाव है कि अब प्रधानमंत्री चुप हो जायें क्योंकि उनके झूठ बोलने से कांग्रेस के भले ही वोट बढ़ते हो लेकिन देश का नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा के जो केन्द्रीय नेता राजस्थान में आ रहे हैं उनके पास राजस्थान की गहलोत सरकार द्वारा जनता को दी गई गारंटियों के विरूद्ध बोलने के लिये कुछ नहीं है, इसलिये केवल हिन्दू-मुस्लिम पर बोलकर भाजपा नेता चले जाते हैं।  

खेड़ा ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस सरकार ने पांच वर्ष में जो जनकल्याणकारी कार्य किये उनकी काट भाजपा के पास नहीं है, उसका जवाब देने की हिम्मत एवं हैसियत भाजपा नेताओं के पास नहीं है।

भाजपा के बाबाजी राजस्थान में आकर सरकार को कोसते हैं जबकि स्वयं के शासित प्रदेश में शासन व्यवस्था नहीं दे पा रहे हैं, स्वयं के प्रदेश में पुलिस वालों को नहीं बचा पा रहे हैं, किन्तु राजस्थान की कानून-व्यवस्था पर प्रश्न उठा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि राजस्थान एक शांत राज्य है जहां पड़ौसी राज्य का एक मुख्यमंत्री आकर राजस्थान को भी अशांत राज्य बनाना चाहता है जो स्वीकार्य नहीं है। 

उन्होंने कहा कि पड़ौसी भाजपा शासित राज्य में पुलिस वाले भी सुरक्षित नहीं है जबकि राजस्थान में दलितों, महिलाओं अथवा किसी भी प्रकार का अपराध होने पर 24 से 48 घण्टे में अपराधी पुलिस की गिरफ्त में होता है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय कृषि मंत्री के बेटे पर गांजे की खेती करने का आरोप है लेकिन ईडी, सीबीआई, इनकम टैक्स कार्यवाही करने की बजाये नदारद है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र तोमर के घर पर ईडी, सीबीआई दस्तक क्यों नहीं देती है। 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस जानना चाहती है कि कब तोमर के विरूद्ध कार्यवाही होगी और कब उनका बेटा गिरफ्तार होगा। उन्होंने लाल डायरी का जिक्र करते हुए कहा कि क्या गांजे की खेती केन्द्रीय मंत्री का बेटा कर रहा है ऐसा जिक्र होगा, क्या संजीवनी घोटाले का उसमें जिक्र होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता आते हैं और सुबह से शाम तक झूठ बोलते हैं, लाल डायरी का नाम जपते हैं। उन्होंने चुनौती देते हुए कहा कि लाईये लाल डायरी और उसमें अगर संजीवनी का नाम ना निकले तो बात करियेगा। 

उन्होंने कहा कि कई केन्द्रीय मंत्री और भाजपा के मुख्यमंत्री राजस्थान आये लेकिन एक ने भी विकास की बात नहीं की, जबकि कांग्रेस गर्व के साथ कहती है कि राजस्थान में विकास के नये आयाम स्थापित कर देश को नया विकास का मॉडल दिया है।

खेड़ा ने कहा कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार द्वारा दिये गये विकास के मॉडल पर गर्व है तथा इस मॉडल पर यदि कोई चर्चा करना चाहे तो उसे चुनौती है कि वह सामने आये। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार ने पांच वर्ष तक जिस जनसेवा के जज्बे से लोककल्याणकारी कार्य किये हैं, स्पष्ट रूप से प्रदेश में जनता के आशीर्वाद से पुन: कांग्रेस की सरकार भारी बहुमत के साथ बनेगी। 

ये भी पढे़ं- तेलंगाना की सत्ता में आने पर भाजपा लोगों के लिए राम मंदिर की मुफ्त यात्रा सुनिश्चित करेगी: अमित शाह

 

Online Jobs Apply