बरेली: एड्स पीड़ितों से करें सुगम व्यवहार

एड्स दिवस पर बरेली इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, जिला अस्पताल समेत अन्य संस्थाओं ने कार्यक्रम किए आयोजित

बरेली: एड्स पीड़ितों से करें सुगम व्यवहार

बरेली, अमृत विचार: बरेली इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के केशलता कॉलेज ऑफ फार्मेसी विभाग में शुक्रवार को विश्व एड्स दिवस पर कार्यक्रम हुआ। जिसमें फार्मेसी विभाग की असिस्टेंट प्रो. सौम्या अग्रवाल से छात्र छात्राओं को विश्व एड्स दिवस के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस वर्ष की थीम लेट्स कम्युनिटीज लीड है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार वर्ष 2022 के अंत में अनुमानित 31 मिलियन मरीज एचआईवी के साथ जीवन यापन कर रहे हैं। एचआईवी एक तरह का वायरस है, जब यह शरीर में प्रवेश कर जाता है तो उसे एचआईवी संक्रमण कहते हैं। यह बीमारी इन्फेक्टेड सिरिंज, निडिल के इस्तेमाल से या बॉडी या ब्लड ट्रांसफ्यूजन से फैलती है।

इसलिए जरूरी है कि अधिकृत संस्था से ही ब्लड लेना चाहिए और उसे टेस्ट करवाना चाहिए। इस मौके पर प्रधानाचार्य डाॅ. पंकज मिश्रा ने बताया की नियमित उपचार लेने व सावधानी रखने पर एचआईवी पॉजिटिव व्यक्ति भी सामान्य जिंदगी जी सकता है। असिस्टेंट प्रो. सुगंधा सिंह, सृष्टि कटियार, वर्षा सैनी, ऐश्वर्या यादव, जगमोहन गंगवार, प्रिया लोहिया, अनिल कुमार सिंह व अमित गंगवार आदि उपस्थित रहे।

विश्व एड्स दिवस पर जिला अस्पताल स्थित एआरटी सेंटर पर हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत सीएमओ डॉ. विश्राम सिंह ने की। इस दौरान लोगों को एड्स के बार में विस्तृत जानकारी देकर जागरूक किया गया। वहीं मरीजों और तीमारदारों को पंफलेट देकर संक्रमण से बचने और असुरक्षित यौन संबंध न बनाने की सलाह भी दी गई। कार्यक्रम में डॉ. यूबी सिंह, डॉ. केपी सिंह और एआरटी सेंटर के डाटा मैनेजर मनोज वर्मा आदि मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें - बरेली: 75 बीघा में बन रही तीन अवैध कालोनियों पर चला बुलडोजर, बीडीए से नक्शा पास कराए बगैर हो रहा था निर्माण

ताजा समाचार

बरेली: सपा कार्यकर्ता ने छात्रा से की छेड़छाड़, दो महीने से भेज रहा था अश्लील मेसेज...गिरफ्तार
बोर्ड परीक्षा को लेकर लखनऊ पुलिस ने कसी कमर, रात 10 से लेकर सुबह 6 बजे तक डीजे पर लगाई रोक
Good News: गन्ने खरीद की कीमत में 8 फीसदी की बढ़ोतरी, मोदी सरकार का बड़ा फैसला
लखनऊ: डीजीपी प्रशांत कुमार ने पुलिस को दिया भावुक संदेश, फोर्स को दिलाई कर्तव्यनिष्ठा की याद
प्रयागराज: तय तारीखों पर गैरहाजिर रहने वाले अधिवक्ताओं पर हाईकोर्ट हुआ सख्त, की यह सख्त टिप्पणी... 
पीजीआई एपेक्स ट्रामा : मरीज देखने पहुंचे तीमारदारों का हंगामा, डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों से मारपीट का लगा आरोप