हल्द्वानी: 150 लोग हिरासत में, जिले के बार्डर पर बढ़ाई सख्ती...मुखबिर तंत्र चौकस

हल्द्वानी: 150 लोग हिरासत में, जिले के बार्डर पर बढ़ाई सख्ती...मुखबिर तंत्र चौकस

हल्द्वानी, अमृत विचार। दंगा होने के एक सप्ताह के अंदर ही पुलिस ने आरोपियों की कई गिरफ्तारियां कर दी हैं। उपद्रव करने वालों को पुलिस लगातार गिरफ्तार कर रही है। अभी तक 150 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है। 

पुलिस ने बनभूलपुरा में घर-घर के अंदर जाकर सर्च ऑपरेशन चलाया है। उपद्रवियों को पहचानने के लिए सीसीटीवी और ड्रोन कैमरे की फुटेज का इस्तेमाल किया जा रहा है।

उपद्रवियों को लगातार चिन्हित किया जा रहा है। साथ ही मुखबिर तंत्र को काफी सक्रिय कर दिया गया है। जिससे दंगाईयों की लिस्ट को पूरा किया जा सके और जल्द ही सभी की धरपकड़ की जाये। इधर पुलिस की बढ़ रही सख्ती को देखते हुये कई लोग चोरी-छुपे हल्द्वानी छोड़कर भाग भी रहे हैं। इनमें उपद्रवियों के भी शामिल होने का अनुमान जताया जा रहा है। 

कुंवरपुर इंटर कॉलेज में दंगाई, पढ़ाई ठप
बनभूलपुरा में हुये उपद्रव के बाद दंगाईयों को हिरासत में रखने के लिए गौलापार के कुंवर में स्थित इंटर कॉलेज का इस्तेमाल किया जा रहा है। स्कूल में पढ़ाई ठप हो गयी है। जिस वजह से स्थानीय लोगों में बच्चों की पढ़ाई की चिंता हो रही है। 

आठ फरवरी को उपद्रव शांत होने के साथ ही पुलिस ने उपद्रवियों की धरपकड़ शुरू कर दी थी। समस्या थी बड़ी संख्या में पकड़ जा रहे आरोपियों को हिरासत में रखने के लिए जगह की। समस्या के समाधान के तौर पर गौलापार के कुंवरपुर स्थित इंटर कॉलेज में उपद्रवियों को हिरासत में रखना शुरू कर दिया गया।

उपद्रवियों की संख्या काफी ज्यादा है। अभी तक 150 लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। साथ ही हिरासत में लेने वालों की संख्या और भी बढ़ने का अनुमान है। ऐसे में कुंवरपुर के राजकीय इंटर कॉलेज में पढ़ाई व्यवस्था बंद हो गयी है। बच्चों को घर पर ही रहने के लिए कह दिया गया है।

स्थानीय लोगों को चिंता है कि अगर स्कूल लंबे समय तक बंद रहा तो बच्चों की पढ़ाई पर बुरा असर पड़ेगा। जल्द ही बोर्ड की परीक्षा भी होने वाली है। स्थानीय निवासी नीरज रैक्वाल ने कहा कि उपद्रवियों को रखने के लिए पुलिस और प्रशासन को अन्य किसी जगह का इंतजाम करना चाहिये। 

जिले के बॉर्डर पर बढ़ायी सख्ती
हल्द्वानी। दंगा होने के बाद से ही कई लोगों ने बनभूलपुरा छोड़ना भी शुरू कर दिया था। माना जा रहा है कि उपद्रव करने के बाद कई दंगाई भाग भी गये हैं। इस वजह से जिले के बॉर्डर पर अब सख्ती बढ़ा दी गयी है। पुलिस आने और जाने वालों से पूछताछ कर रही है। साथ ही संदिग्ध लोगों की जांच भी की जा रही है। 

ताजा समाचार

Kanpur: दंडवत यात्रा में भक्तों का पुष्प वर्षा से हुआ स्वागत; करौली शंकर बोले- 'मोक्ष के लिए गुरू कृपा जरूरी'
आगरा: पुलिस पर अधिवक्ता की हत्या का आरोप, वकीलों ने पुतला दहन कर खोला मोर्चा
चुनाव में पक्षपात करने वाले अधिकारी हो जाएं सावधान, गड़बड़ी पर होगी कड़ी कार्रवाई, निर्वाचन आयोग के सख्त निर्देश
शाहाबाद में बच्चों को लड्डू में जहर देने का आरोप, तीन मासूमों की बिगड़ी हालत-ICU में चल रहा इलाज  
प्रयागराज: विधायक के बोल की खुल रही पोल!, तीन साल बीत गए नहीं लग पाया ऑक्सीजन प्लांट, जनता निराश!
बरेली: अद्भुत और सुंदर...'पंख वाले किन्नर' खुद में समेटे हैं पौराणिक इतिहास
Online Jobs Apply