हल्द्वानी: कर्फ्यू की पाबंदियां खत्म, संगीनों के साये बनभूलपुरा

हल्द्वानी: कर्फ्यू की पाबंदियां खत्म, संगीनों के साये बनभूलपुरा

हल्द्वानी, अमृत विचार। बनभूलपुरा से अब कर्फ्यू पूरी तरह हटा लिया गया है, लेकिन एहतियान क्षेत्र में फोर्स तैनात है। आने वाले कुछ दिनों तक पुलिस और पैरा मिलिट्री फोर्स पूरे क्षेत्र में निगरानी बनाए रखेंगे। यही वजह है कि कर्फ्यू खत्म होने के बावजूद क्षेत्र में संदिग्ध दिखने वाले हर एक को रोककर पूछताछ की जा रही है। 

बीती 8 फरवरी को दंगा भड़कने के बाद पूरे शहर में प्रशासन ने कर्फ्यू घोषित कर दिया था। शहर के चप्पे-चप्पे में पैरा मिलिट्री फोर्स और पुलिस का पहरा लगा दिया। स्थिति सामान्य हुई तो तीन दिन बाद बनभूलपुरा को छोड़कर शहर को कर्फ्यू मुक्त कर दिया गया और बनभूलपुरा में और भी कड़ा पहरा लगा दिया गया।

धीरे-धीरे बनभूलपुरा को भी कर्फ्यू में छूट दी जाने लगी, लेकिन मलिक का बगीचा में कर्फ्यू बदस्तूर जारी रहा। अब 20 फरवरी से मलिक के बगीचे को भी कर्फ्यू मुक्त कर दिया गया, लेकिन तमाशबीनों को मलिक का बगीचा की ओर जाने की इजाजत अब भी नहीं है। पूरे बनभूलपुरा क्षेत्र में पैरा मिलिट्री और पुलिस चप्पे-चप्पे पर तैनात है। खास तौर पर मलिक का बगीचा की ओर कड़ी निगरानी की जा रही है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार के बाद से पैरा मिलिट्री फोर्स की रवानगी कर दी जाएगी। 

ताजा समाचार

डीएम की पहल: 50 से अधिक सोशल मीडिया INFUENCER मतदान के लिए लोगों को करेंगे जागरूक
बलरामपुर: कोयलाबास से लौट रहे यात्रियों से भरी बोलेरो पेड़ से टकराई, दो की मौत-सात घायल  
Auraiya: 81 दिन बाद हो सकी मृतक की ​शिनाख्त; ड्रम में भरा मिला था शव, परिजनों ने दो युवकों पर लगाया हत्या का आरोप
लखनऊ: मेदांता अस्पताल प्रशासन ने मंत्री ओपी राजभर को आरोपों को नकारा, इलाज के नाम पर वसूले थे चार लाख रूपये
दिल्ली-वाराणसी लखनऊ के लिए चलेगी समर स्पेशल ट्रेन,जाने टाइम टेबल
रामपुर: सरकारी स्कूल के प्रधानाध्यापक के उत्पीड़न से तंग हुईं शिक्षिकाएं, आत्मदाह की चेतावनी