CWG 2022 : वेटलिफ्टर अचिंता शेउली ने भारत को दिलाया तीसरा गोल्ड, कॉमनवेल्थ गेम्स में बनाया नया रिकॉर्ड

CWG 2022 :  वेटलिफ्टर अचिंता शेउली ने भारत को दिलाया तीसरा गोल्ड, कॉमनवेल्थ गेम्स में बनाया नया रिकॉर्ड

नई दिल्ली।  कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत ने तीसरा गोल्ड मेडल हासिल किया है। 20 साल के अचिंता शेउली ने पुरुषों के 73 किग्रा भार वर्ग में नये रिकॉर्ड के साथ देश को तीसरा पीला तमगा दिलाया। पश्चिम बंगाल के 21 वर्ष के शेउली ने स्नैच में 143 किलो वजन उठाया जो राष्ट्रमंडल खेलों का …

नई दिल्ली।  कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत ने तीसरा गोल्ड मेडल हासिल किया है। 20 साल के अचिंता शेउली ने पुरुषों के 73 किग्रा भार वर्ग में नये रिकॉर्ड के साथ देश को तीसरा पीला तमगा दिलाया। पश्चिम बंगाल के 21 वर्ष के शेउली ने स्नैच में 143 किलो वजन उठाया जो राष्ट्रमंडल खेलों का नया रिकॉर्ड हैं। उन्होंने क्लीन एवं जर्क में 170 किलो समेत कुल 313 किलो वजन उठाकर राष्ट्रमंडल खेलों का रिकॉर्ड अपने नाम किया।

राष्ट्रमंडल खेलों में तिरंगा को ऊंचा करके भारत को गौरवान्वित किया -राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रमंडल खेलों की भारोत्तोलन स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाले अचिंता शेउली को इस उपलब्धि पर बधाई और शुभकामनाएं दी। राष्ट्रपति मुर्मू ने ट्वीट किया, ‘‘आप चैंपियन हो जिन्होंने इतिहास रचा। हार्दिक बधाई। अचिंता शेउली ने स्वर्ण पदक जीतकर और और राष्ट्रमंडल खेलों में तिरंगा को ऊंचा करके भारत को गौरवान्वित किया है। आप अपने एक प्रयास में नाकामी से तुरंत ही उबर कर शीर्ष पर रहे। आप चैंपियन हो और आप ने इतिहास रचा है।’’

खुशी है कि प्रतिभाशाली अचिंता शुली ने राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता-प्रधानमंत्री मोदी
प्रधानमंत्री मोदी ने शेउली के प्रदर्शन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने इस उपलब्धि के लिए कड़ी मेहनत की थी। मोदी ने राष्ट्रमंडल खेलों के लिए भारतीय दल के रवाना होने से पहले शेउली के साथ अपनी बातचीत की एक क्लिप भी ट्वीट की। उन्होंने कहा, ‘‘हमने उनकी मां और भाई से मिले समर्थन पर चर्चा की थी। अब वह पदक जीत चुके हैं और मुझे उम्मीद है कि अब उन्हें यह क्लिप देखने का समय मिलेगा।’’ मोदी ने कहा, ‘‘खुशी है कि प्रतिभाशाली अचिंता शुली ने राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता है। वह अपने शांत स्वभाव और दृढ़ता के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने इस विशेष उपलब्धि के लिए बहुत मेहनत की है। उन्हें भविष्य की प्रतियोगिताओं के लिए मेरी शुभकामनाएं।’’

ये भी पढ़ें : CWG 2022 : पिता बनाना चाहते थे बॉक्सर, अब वेटलिफ्टिंग में रचा इतिहास, जानें कौन हैं जेरेमी लालरिनुंगा

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement