खटीमा: चिटफंड कंपनी खोलकर लाखों की धोखाधड़ी में दो गिरफ्तार

खटीमा: चिटफंड कंपनी खोलकर लाखों की धोखाधड़ी में दो गिरफ्तार

खटीमा, अमृत विचार। क्षेत्र में सरमाउंट फार्मिंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, सरमाउंट इंडिया निधि लिमिटेड कंपनी के नाम से चिट फंड कंपनी खोलकर करीब 70-80 लाख रुपए की धोखाधड़ी के मामले में पुलिस ने यूपी के मुरादाबाद क्षेत्र निवासी दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। 
 

रविवार को सीओ वीर सिंह ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि खटीमा के बानूसी निवासी सत्यपाल सिंह ने 21 फरवरी 2022 को कोतवाली पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसमें यूपी के जिला मुरादाबाद के थाना मझोला, गली नंबर एक, शिव मंदिर रामलीला ग्राउंड निवासी ओमपाल सिंह , मुरादाबाद के ही थाना मझोला, प्रकाश नगर चौराहा निकट प्रथमा बैंक लाइनपार निवासी फूल सिंह, मुरादाबाद के गली नंबर एक, कुंदनपुर रामलीला ग्राउंड नियर फूलवाली स्कूल निवासी ललिता देवी, मुरादाबाद के कटघर मिश्रा डिपार्टमेंटल के 12 निवासी सुशील कुमार, मुरादाबाद के हाउस नंबर 62, शाहपुर टिगरी आंशिक शाहपुर निवासी भगवान दास, मुरादाबाद के लाइनपार मझोली नेशनल बैंक निवासी राधेश्याम के खिलाफ केस दर्ज कराया था। इस मामले में सीओ के निर्देश पर कोतवाल नरेश चौहान, एसएसआई अशोक कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया।

टीम ने मामले में शनिवार को आरोपी ओमपाल व  फूल सिंह को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि विवेचना में आरोपियों द्वारा सरमाउंट फार्मिंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, सरमाउंट इंडिया निधि लिमिटेड कंपनी खोलकर आम जनता को धन वृद्धि का लालच देकर उनके रुपए चिट फंड कंपनी में लगाकर करीब 70-80 लाख रुपए की धोखाधड़ी में लिप्त होना पाया जा रहा है। इस मामले में विस्तृत विवेचना जारी है। पुलिस टीम में सीओ व कोतवाल, एसएसआई के अलावा मझोला चौकी इंचार्ज ललित बिष्ट, चौकी मझोला के कांस्टेबल त्रिभुवन पडलिया, कांस्टेबल भूपेंद्र कुमार, दीपक कठैत आदि शामिल रहे।

ताजा समाचार

Kanpur: ऑर्टरी नली में कैल्शियम जमा तो नहीं होगी अब ओपन हार्ट सर्जरी, कॉर्डियोलॉजी में इस विधि से होगा दिल के रोगियों का इलाज
अयोध्या: प्रत्येक क्षेत्र में पूराबाजार ब्लाक ने किया उत्कृष्ट प्रदर्शन : विधायक वेद प्रकाश गुप्ता
ओलंपिक शीतकालीन खेल 2030 की मेजबानी भी करेगा फ्रांस, इमैनुएल मैक्रों ने किया आभार व्यक्त
Kanpur: उम्मीदों पर फिरा पानी, समानांतर फोरलेन को नहीं मिला बजट, जाम व हादसे के डर के बीच तय करना होगा सफर
सोशल मीडिया कर रहा अस्वस्थ्य, नई रिसर्च में हुआ भयानक नया खुलासा
अचंता शरत कमल का ओलंपिक में सबसे यादगार पल रोजर फेडरर से मिलना, जानिए क्या बोले?