आज का इतिहास: आज की के दिन भारत की प्रथम महिला चिकित्सक रुक्माबाई का जन्‍म हुआ

आज का इतिहास: आज की के दिन भारत की प्रथम महिला चिकित्सक रुक्माबाई का जन्‍म हुआ

नई दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 22 नवंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएं इस प्रकार है। 
1808: दुनिया की मशहूर ट्रैवल कंपनी ‘थॉमस कुक एंड संस’ के संस्‍थापक थॉमस कुक का जन्‍म। 
1830: अंग्रेजों के खिलाफ आजादी की जंग छेड़ने वाली रानी लक्ष्‍मीबाई की सेना की मुख्‍य सदस्‍य झलकारी बाई का जन्‍म।
1864: भारत की प्रथम महिला चिकित्सक रुक्माबाई का जन्‍म हुआ। 
1882: भारत के प्रसिद्ध उद्योगपतियों में से एक वालचंद हीराचंद का जन्‍म हुआ। 
1920 : हकीम अजमल ख़ान जामिया के पहले चांसलर बने। 
1943: द्वितीय विश्वयुद्ध[मृत कड़ियाँ] के दौरान जापान को हराने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति फ्रैंकलिन डेलानो रूज़वेल्ट, ब्रिटिश प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल और चीनी शासक च्यांग काई शेक के बीच मंत्रणा हुई। 
1950: अमेरिका के रिचमंड हिल्स में रेल दुर्घटना में 71 लोगों की मृत्यु हो गई। 
1963: अमेरिका के 35वें राष्‍ट्रपति जॉन एफ केनेडी की हत्‍या। 
1968: मद्रास राज्य का नाम बदलकर तमिलनाडु करने के प्रस्ताव को लोकसभा से स्वीकृति मिली। 
1971: भारत और पाकिस्तान ने एक दूसरे की हवाई सीमाओं का उल्लंघन किया और दोनों देशों के बीच हवाई संघर्ष शुरू हुआ। ग्यारह दिन बाद बंगलादेश मुक्ति युद्ध शुरू हुआ। 
1975 : जुआन कार्लोस स्पेन के राजा बने।
1981: मंगल, शुक्र, शनि, यूरेनस, नेप्च्यून और चंद्रमा एक ही सीध में आये। 
1986: ब्‍लेड रनर ऑस्‍कर पिस्‍टोरियस का जन्‍म। 
1990: ब्रिटेन की प्रधानमंत्री मार्गरेट थैचर को दूसरी बार पार्टी नेता बनने के चुनाव में कैबिनेट ने समर्थन नहीं दिया। इसके बाद थैचर को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा। 
1997: डायना हेडन विश्व सुंदरी बनीं।
1998 : बंगलादेश की विवादास्पद लेखिका तसलीमा नसरीन ने ढाका की अदालत में आत्मसमर्पण किया। 
2000 : पाकिस्तान तथा ईरान पर संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा प्रतिबंध। 
2002: मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता के आयोजन के विरोध में नाइजीरिया में भड़के दंगे में सैकड़ों लोग मारे गए। 
2005: एंजेला मर्केल जर्मनी की चांसलर बनीं। इस पद पर पहुंचने वाली जर्मनी की पहली महिला थीं मर्केल। वह पिछले 15 साल से इस पद पर हैं। 2012: पाकिस्तान में 6 अलग-अलग जगहों पर हुए हमलों में 37 लोगों की मौत और 93 लोग घायल हुए। 
2020: जी-20 देशों की दो दिवसीय वर्चुअल समिट खत्म हुई। इसमें सभी के लिए कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराने पर सहमति जताई गई। 

 

ताजा समाचार