Lok Sabha Election: Kannauj से सुब्रत पाठक का टिकट फाइनल...चौथी बार क्षेत्र से आजमाएंगे भाग्य

कन्नौज से सुब्रत पाठक का टिकट फाइनल

Lok Sabha Election: Kannauj से सुब्रत पाठक का टिकट फाइनल...चौथी बार क्षेत्र से आजमाएंगे भाग्य

कन्नौज, अमृत विचार। लंबी जद्दोजहद के बाद आखिरकार भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर दी है। जैसा कि पहले से तय माना जा रहा था सांसद सुब्रत पाठक पर एक बार फिर से भरोसा जताया गया है। वे चौथी बार पार्टी के टिकट पर क्षेत्र से भाग्य आजमाएंगे। 

भारतीय जनता पार्टी ने तैयारी की शुरुआत के साथ ही कन्नौज में प्रत्याशी घोषणा में भी बाजी मार दी है। शनिवार देर शाम जारी हुई पहली सूची में ही मौजूदा सांसद का नाम शामिल है। हालांकि दो दिन पहले से ही यह बात कही जा रही थी कि सुब्रत एक बार फिर से कन्नौज की जनता की अदालत में होंगे। 

सुब्रत पाठक को सबसे पहले 2009 में भाजपा का टिकट मिला था। तब उनके सामने सपा से प्रत्याशी के रूप में अखिलेश यादव थे। तब अखिलेश यादव को  356895 (45.52 फीसदी) वोट मिले थे जबकि निकटतम प्रतिद्वंद्वी बसपा के डॉ. महेश चंद्र वर्मा को 1,91,887 (29.91 फीसदी) वोट मिले और वह दूसरे स्थान पर रहे थे। 

इस चुनाव में अखिलेश को 165008 वोटों से विजय मिली थी जबकि भाजपा के सुब्रत पाठक को 1,50,872 (20.33फीसदी) वोटों से संतोष करना पड़ा। वे तीसरे स्थान पर रहे थे।

साल 2014 में दूसरी बार फिर से भाजपा ने पाठक पर ही दांव लगाया और तब समाजवादी पार्टी से उनके सामने तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव थीं। उस समय भीषण मोदी लहर के बीच उन्हें 4,69,257 वोट मिले थे। वहीं डिंपल यादव को 4,89,164 वोट मिले और मामूली अंतर 19907 वोटों से विजयी रहीं। 

इसके बाद 2019 में फिर से सुब्रत को ही टिकट दिया गया। तब पहली बार सांसद बने सुब्रत को 563087 वोट मिले। उनकी निकटतम प्रतिद्वंद्वी व सांसद रहीं डिंपल यादव को 550734 मत ही मिले। इस तरह से वह मात्र 12,353 वोटों से विजयी हो गए। हालांकि आखिर तक दोनों प्रत्याशियों में जोरदार टक्कर चलती रही। 

अब एक बार राम मंदिर में श्री रामलला की प्राणप्रतिष्ठा के बाद आत्मविश्वास से भरी भाजपा ने सुब्रत को चौथी बार प्रत्याशी बनाया है। हालांकि तीन फरवरी को मुख्यमंत्री की सभा के दौरान ही स्पष्ट हो गया था कि इस बार फिर से वही मैदान में होंगे। उन्हें फिर से टिकट मिलने से समर्थकों में खासा उत्साह देखा जा रहा है।

ये भी पढ़ें- Lok Sabha Election: Fatehpur से तीसरी बार लड़ेगी साध्वी निरंजन ज्योति चुनाव...प्रत्याशियों में दौड़ी खुशी की लहर


 

ताजा समाचार

Kannauj: फतेहपुर जसोदा में शिवमोहन ही रहेंगे प्रभारी प्रधानाचार्य; चार्ज हटने से बिलख-बिलख कर रोए थे छात्र-छात्राएं
सुलतानपुर में अफवाह के बाद हो सकता था बड़ा बवाल, ईद पर मुस्तैद रहा प्रशासन-तोड़फोड़ करने वालों पर की कार्रवाई   
लखीमपुर खीरी: खेत पर काम कर रहे मजदूर पर बाघ का हमला, हालत गंभीर
Kanpur Dehat News: आंधी और बारिश से बढ़ी किसानों की धड़कन, गेहूं की फसल को पहुंचा नुकसान
बरेली: मेयर उमेश गौतम के समर्थन में आया ब्राह्मण समाज, कुर्मी समाज के आरोपों को बताया निराधार
लखीमपुर-खीरी: डीएम ने इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम का किया निरीक्षण, दिए निर्देश