कोरोना की तरह के संचारी रोगों से भी होगा डटकर मुकाबला: मुख्यमंत्री

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बरसात के मौसम में बीमारियों की संभावनाएं बढ़ जाती है। जलजनित बीमारी थोड़ी सी असावधानी होने पर किसी को आगोश में ले लेती है। इसके लिए जनजागरूकता अभियान जरूरी है। उन्होंने कहा कोरोना की तरह के संचारी रोगों से भी डटकर मुकाबला करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ …

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बरसात के मौसम में बीमारियों की संभावनाएं बढ़ जाती है। जलजनित बीमारी थोड़ी सी असावधानी होने पर किसी को आगोश में ले लेती है। इसके लिए जनजागरूकता अभियान जरूरी है।

उन्होंने कहा कोरोना की तरह के संचारी रोगों से भी डटकर मुकाबला करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कोरोना की तरह के संचारी रोग से भी डटकर मुकाबला करेंगे। उन्होंने आम लोगों से अपील की कि अनलॉक को हल्के में ना लें, क्योंकि लोग अगर सावधानी नहीं बरतेंगे तो करोना का प्रसार तेजी से बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 को नियंत्रित करने में भी स्वच्छता की बड़ी भूमिका है।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश जैसे बड़ी आबादी वाले राज्य में बहुत बेहतर काम हुआ है। आज कोविड-19 अस्पतालों में करीब डेढ़ लाख बेड हैं। रेपिड टेस्टिंग को बढ़ाकर 30 हजार प्रतिदिन किया जाएगा। आज कोविड-19 अस्पतालों में करीब डेढ़ लाख बेड हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि वर्ष 2016 और 2017 में उप्र में सिर्फ इंसेफेलाइटिस (मस्तिष्क में सूजन) से प्रतिवर्ष 600 से ज्यादा मौतें होती थीं। यदि इसके बाद के वषों के आकड़े देखेंगे तो लगातार इन मौतों की संख्या कम हुई है। वर्ष 2019 तक यह घटकर 126 तक आ गई थी।

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से इस वर्ष कोरोना काल में स्वच्छता और सैनेटाइजेशन का अभियान चला है उससे इन मौतों में और कमी आएगी। जिस बीमारी ने पिछले चालीस वर्षों में हजारों बच्चों को निगल लिया हो, उस बीमारी को साठ फीसदी तक कम कर लिया जाए तो यह अपने आप में बड़ी उपलब्धि है। इस उपलब्धि को हासिल करने में प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन की बड़ी भूमिका है।

योगी ने कहा कि प्रदेश के अंदर इंसेफेलाइटिस को रोकने का काम बड़े स्तर पर काम किया गया है। अब मलेरिया, डेंगू व संचारी रोगों को रोकने के लिए फिर से अभियान चलाया जा रहा है। विभागों के समन्वय के साथ इस अभियान को आगे बढ़ाया जा रहा है।

सीएम योगी ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना काल में बड़े स्तर पर काम किया है। हर प्रकार के संचारी रोगों को हर हाल में हम रोकेंगे। कोरोना के लिए भी साफ -सफाई की आवश्यकता है। हमें कोरोना के खिलाफ ये जंग जीतनी है। प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को हमें सुरक्षित रखना है।

इसके साथ ही उन्होंने विशेष सफोई दल को हरी झंडी दिखाई। यह सफोई दल पूरे प्रदेश में गांव और मोहल्ले में जाकर सफोई और सैनिटाइजेशन का काम करेगा। लोगों को उल्टी, दस्त जेई व एईएस आदि संचारी रोग से बचाने के लिए उन्हें जागरूक किया जाएगा। यह अभियान 31 जुलाई तक चलेगा।

Post Comment

Comment List