चीनी iPhone फैक्टरी में मचा बवाल, वेतन विवाद को लेकर भड़के कर्मचारी

चीन में कोरोना वायरस संक्रमण को कारण लंबे समय तक दुकानें एवं कार्यालय बंद रहे और लाखों लोगों को कई सप्ताह तक घरों में बंद रहना पड़ा। इन प्रतिबंधों से परेशान लोगों ने कुछ इलाकों में प्रदर्शन किए हैं।

चीनी  iPhone फैक्टरी में मचा बवाल, वेतन विवाद को लेकर भड़के कर्मचारी

बीजिंग। चीन स्थित एप्पल आईफोन के दुनिया के सबसे बड़े कारखाने में कर्मचारियों को कोरोना वायरस के कारण लागू प्रतिबंधों के बीच संविदा संबंधी विवाद के चलते पीटा गया और हिरासत में रखा गया। सोशल मीडिया पर बुधवार को पोस्ट किए गए कुछ वीडियो में यह नजर आ रहा है और प्रत्यक्षदर्शियों ने भी यह जानकारी दी। चीनी सोशल मीडिया पर उपलब्ध झोंगझोउ स्थित कारखाने के वीडियो में नकाब पहने हजारों प्रदर्शनकारी सफेद सुरक्षात्मक सूट पहने पुलिसकर्मियों का सामना करते नजर आ रहे हैं। 

एक व्यक्ति के सिर पर डंडा मारा गया और एक अन्य को उसके हाथ पीछे की ओर बांधकर ले जाया गया। सोशल मीडिया पर की गई पोस्ट में कहा गया कि ये लोग संविदा के उल्लंघन का विरोध कर रहे थे। चीन में कोरोना वायरस संक्रमण को कारण लंबे समय तक दुकानें एवं कार्यालय बंद रहे और लाखों लोगों को कई सप्ताह तक घरों में बंद रहना पड़ा। इन प्रतिबंधों से परेशान लोगों ने कुछ इलाकों में प्रदर्शन किए हैं। पिछले महीने हजारों कर्मचारी कोरोना वायरस के खिलाफ सुरक्षा के अपर्याप्त उपायों और बीमार पड़ने वाले सहकर्मियों को कोई मदद नहीं मिलने की शिकायतों के कारण ताइवान स्थित फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी ग्रुप कंपनी द्वारा संचालित कारखाना छोड़कर चले गए थे। 

कारखाने के कर्मचारी ली संशान ने बताया कि अधिक वेतन के प्रस्ताव के कारण नौकरी करने आए नए कर्मचारियों के लिए शर्तों में बदलाव किए जाने पर उन्होंने मंगलवार को प्रदर्शन किए। ली (28) ने कहा कि उन्होंने दो महीने के काम के लिए 25,000 युआन (3,500 अमरीकी डालर) का वादा करने वाले विज्ञापन के कारण अपनी नौकरी छोड़ दी थी। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को बताया गया कि 25,000 युआन प्राप्त करने के लिए उन्हें कम वेतन पर दो अतिरिक्त महीने काम करना होगा, जिससे वे नाराज हो गए। ली ने कहा, ‘‘फॉक्सकॉन ने भर्ती के लिए बहुत लुभावना प्रस्ताव दिया और देश भर से लोग काम करने आए, लेकिन उन्हें पता चला कि उन्हें मूर्ख बनाया जा रहा है।’’ 

बीजिंग समेत चीन में संक्रमण के मामलों में फिर से बढ़ोतरी होने के बीच प्रदर्शन बढ़ गए हैं। प्राधिकारियों ने इस सप्ताह देश में संक्रमण से पिछले छह महीने में पहली मौत होने की जानकारी दी। सरकार ने मंगलवार को बताया कि पिछले तीन सप्ताह में संक्रमण के 2,53,000 से अधिक मामले पाए गए हैं और दैनिक औसत बढ़ रहा है। एप्पल इंक ने पहले चेतावनी दी थी कि झेंगझोउ कारखाने पर लगाए गए प्रतिबंधों के कारण नए आईफोन 14 मॉडल बाजार में देरी से उपलब्ध होंगे। शहर की सरकार ने कारखाने के चारों ओर औद्योगिक क्षेत्र में पहुंच को प्रतिबंधित कर दिया था। फॉक्सकॉन कंपनी ने बताया कि इस कारखाने में 2,00,000 लोग कार्यरत हैं। 

ये भी पढ़ें:- Elon Musk ने रोका Twitter पर '8 डॉलर में Blue Tick' प्‍लान!, आलोचकों से कहा- Namaste 

Post Comment

Comment List