अलाया अपार्टमेंट हादसा : सपा नेता अब्बास हैदर ने मां और पत्नी की मौत के लिए अधिकारियों को ठहराया जिम्मेदार

अलाया अपार्टमेंट हादसा : सपा नेता अब्बास हैदर ने मां और पत्नी की मौत के लिए अधिकारियों को ठहराया जिम्मेदार

अमृत विचार, लखनऊ। राजधानी के अलाया अपार्टमेंट हादसे में अब तक दो महिलाओं की मौत हो गई है। यह दोनों महिलायें सपा प्रवक्ता अब्बास हैदर की मां और पत्नी ने बताई जा रही हैं। अस्पताल में इलाज के दौरान दोनों महिलाओं की मौत होने की बात सामने आ रही है। हालांकि इस मामले में अब्बास हैदर ने सरकार और प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाया है।

उन्होंनें मां ओर पत्नी के मौत के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुये जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। सपा नेता ने पत्नी और मां की मौत के बाद जमकर राहत एवं बचाव कार्य में लगे अधिकारियों को कोसा है।

दरअसल,राजधानी के वजीर हसन रोड पर अलाया अपार्टमेंट हादसे में रेस्क्यू का काम तकरीबन 18 घंटे से लगातार जारी है। इसमें अब तक 16 लोगों को बचाया गया है। जिसमें से दो महिलाओं की मौत अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई। ये दोनों महिलाएं समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अब्बास हैदर की मां बेगम हैदर और उनकी पत्नी उज्मा हैदर हैं।

सपा नेता अब्बास हैदर ने अस्पताल पहुंच कर प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाये हैं। पत्नी और मां का शव मिलने में देरी होने के कारण अब्बास हैदर के सब्र का बांध टूट गया और उन्होंने साफ तौर पर सुविधाओं की कमी के कारण राहत एवं बचाव कार्य में देरी होने का आरोप लगाया है।

अब्बास हैदर ने कहा कि उनके मां और पत्नी की मौत समय पर ऑक्सीजन न मिलने के कारण हुई है। उन्होंने कहा कि राहत एवं बचाव कार्य के लिए पहुंचे अधिकारी एवं खुद उप मुख्यमंत्री बाइट देने में व्यस्त रहे। इसके अलावा अन्य जिम्मेदार लोग मौके की फोटो खींच रहे थे। 6 घंटे तक रेस्क्यू के नाम पर खानापूर्ति होती रही।

उन्होंने कहा कि लोग जिस फ्लोर पर फंसे थे,उसी को पहले तोड़ा गया। मै लगातार कहता रहा कि वहां पर लोग मौजूद हैं,लेकिन किसी ने मेरी एक न सुनी। इतना ही नहीं राहत एवं बचाव कार्य में लगे लोगों में प्रशिक्षण की कमी और बेहतर उपकरण न होने को भी दोनों महिलाओं के मौत का एक कारण करार दिया है।

यह भी पढ़ें : Alaya Apartment Collapse: नवाजिश के खिलाफ FIR दर्ज, दो मौत के बाद बढ़ी धाराएं

Post Comment

Comment List