संभल: खेत में मचान पर फंदे से लटका मिला युवक का शव, हत्या का आरोप

संभल: खेत में मचान पर फंदे से लटका मिला युवक का शव, हत्या का आरोप

संभल/जुनावई, अमृत विचार: जुनावई थाना क्षेत्र में फसल की रखवाली करने गए युवक का शव सुबह खेत पर बने मचान से बंधी रस्सी के फंदे से लटका मिला। मौके पर पहुंचे परिजनों ने गांव के ही पिता पुत्रों सहित तीन लोगों पर हत्या कर शव फंदे पर लटकाने का आरोप लगाया।

पुलिस ने पंचनामा भरकर युवक का शव पोस्टमार्टम को भेज दिया। परिजनों का आरोप है कि एक सप्ताह पहले घर में घुसकर गांव के ही पिता पुत्रों सहित तीन लोगों ने लाठी डंडों से मारपीट कर युवक को घायल कर दिया था। शिकायत मिलने के बाद भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की थी।

थाना क्षेत्र के गांव मणिकावली निवासी मानेश 28 वर्ष शुक्रवार की शाम घर से खाना खाने के बाद खेत में फसल की छुट्टा पशुओं से रखवाली करने गया था। शनिवार की सुबह साढ़े चार बजे मानेश की पत्नी क्रांति व छोटा भाई भुवनेश खेत पर काम करने और मानेश के लिए चाय लेकर पहुंचे। देखा तो मानेश का शव खेत पर बने मचान पर रस्सी के फंदे पर झूल रहा था। फंदे पर मानेश का शव लटका देखकर क्रांति व भुवनेश की चीख निकल गई।

चीख पुकार सुनकर आसपास के खेतों में फसल की रखवाली कर रहे अन्य ग्रामीण भी मौके पर आ गए। सूचना मिलने पर पुलिस व फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची। फॉरेंसिक टीम ने साक्ष्य जुटाकर इकठ्ठा किए। पुलिस ने रस्सी खोलकर मानेश का शव फंदे से नीचे उतारा। छोटे भाई भुवनेश ने गांव के ही एक ही परिवार के तीन लोगों पर गला दबाकर मानेश की हत्या कर शव फंदे पर लटकाने का आरोप लगाकर पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने पंचनामा भरकर मानेश का शव पोस्टमार्टम को भेज दिया। मानेश की मौत होने से उसकी पत्नी क्रांति व पांच बच्चों का रो रोकर बुरा हाल है।

तीन के खिलाफ दी हत्या के मामले की तहरीर
संभल/जुनावई, अमृत विचारः जुनावई थाना क्षेत्र के गांव मणिकावली निवासी भुवनेश ने शनिवार को पुलिस को दी तहरीर में बताया कि। आरोप लगाते हुए कहा कि जब मैं खेत पर पहुंचा तो गांव के ही जुगेंद्र उर्फ योगेंद्र अपने बेटे फिरोज व पोते विश्वास के साथ मिलकर गला दबाकर मानेश की हत्या करने के बाद शव मचान पर रस्सी के फंदे पर लटका रहे थे। 

शोर मचाया तो जुगेंद्र उर्फ योगेंद्र, फिरोज व विश्वास मौके से भाग गए। कहा कि 9 मई की रात को जुगेंद्र उर्फ योगेंद्र, फिरोज और जुगेंद्र ने घर में घुसकर मारपीट कर मानेश को घायल कर दिया था। शिकायत करने के बाद भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की थी। जिससे जुगेंद्र उर्फ योगेंद्र, फिरोज और जुगेंद्र बार बार मानेश को जान से मारने की धमकी दे रहे थे।

यह भी पढ़ें- संभल : बदायूं सीट के प्रत्याशियों की हार-जीत को लेकर शर्त लगाने वाले लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

ताजा समाचार