Kanpur: बड़ौदा यूपी बैंक में लगी आग, कागजात व सामान जलकर खाक, फायर ब्रिगेड ने पाया काबू

Kanpur: बड़ौदा यूपी बैंक में लगी आग, कागजात व सामान जलकर खाक, फायर ब्रिगेड ने पाया काबू

कानपुर, अमृत विचार। उत्तरी गांव स्थित बड़ौदा यूपी बैंक से रविवार सुबह अचानक धुआं निकलते देख ग्रामीणों ने मामले की सूचना स्थानीय पुलिस और फायर ब्रिगेड को दी। फायर ब्रिगेड ने कड़ी मशक्कत कर आग पर काबू पाया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना की जांच पड़ताल शुरू की।
              
बिल्हौर थाना क्षेत्र के उत्तरी गांव में स्थित बडौदा यूपी बैंक के अंदर रविवार सुबह आग की लपटें और धुआं उठता देख ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। मामले की सूचना स्थानीय पुलिस और फायर ब्रिगेड को दी गई। स्थानीय पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बैंक मैनेजर ज्ञानेंद्र राजपूत से मोबाइल फोन पर संपर्क कर बैंक में गेट खोलने के लिए उसमें लगे ताले की चाबी की मांग की। 

बैंक मैनेजर के निर्देश पर बैंक का ताला तुड़वा दिया गया। ताला टूटने के बाद बैंक के अंदर पहुंची फायर ब्रिगेड ने कड़ी मेहनत कर आग पर काबू पा लिया। इस दौरान मौके पर पहुंचे बैंक के अधिकारी मनोज कटियार, कैशियर कपिल दत्ता, चपरासी व फील्ड कर्मचारियों ने बैंक के अंदर जाकर चेक किया किया तो पाया कि कैश काउंटर में रखा कंप्यूटर, कुर्सी, कैश गिनने की मशीन, कुछ फाइल ,कैश बुक, पंखे आदि सामान जल गया है। 

गनीमत रही कैश रूम तक आग नहीं पहुंची आग

आग बुझने के बाद बैंक के कैश रूम का ताला बैंक के अधिकारियों ने खुलवाकर चेक किया तो उसमें रखा सभी सामान व तिजोरी सुरक्षित थी। उसके अंदर आग नहीं पहुंची थी। कैश सुरक्षित देख बैंक कर्मचारियों ने राहत की सांस ली। मौके पर मौजूद पुलिस ने घटना की जांच पड़ताल शुरू की। वहीं लोगों ने शार्ट सर्किट से आग लगने की आशंका जाहिर की।

यह भी पढ़ें- Fatehpur: चुनाव कार्मिकों की बस के ऊपर गिरा हाईटेंशन का तार, बिजली आपूर्ति ठप होने से बची 32 लोगों की जान

ताजा समाचार

अयोध्या: ज्येष्ठ माह के अंतिम मंगलवार को हनुमान मंदिरों में उमड़ी आस्था, जगह-जगह लगे भंडारे
बरेली: ट्रांसफार्मर में लगी आग से मचा हड़कंप, फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने पाया काबू
अयोध्या: प्रोफेसर पति सहित सास और देवर के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज, दो दिन पहले पत्नी का शव फंदे से लटकता मिला था
हिमाचल में कांस्टेबल के 1226 पदों पर भर्ती, उम्मीदवारों को आयु में एक वर्ष छूट 
Kanpur: हेड कांस्टेबल की मौत की वजह स्पष्ट नहीं, नाले में मिला था शव, बेटे ने लगाया हत्या का आरोप, पढ़ें पूरा मामला
AKTU में हुआ 120 करोड़ का हेर-फेर, जालसाजों का हुआ खुलासा