बरेली: 337 पेड़ों की नीलामी की 42 लाख की रकम का गोलमाल, SDM को सौंपी जांच

ग्राम पंचायत फिरोजपुर में ग्राम समाज की भूमि के पेड़ों की रकम मीरगंज तहसील पर दूसरे खाते में डलवाने का आरोप

बरेली: 337 पेड़ों की नीलामी की 42 लाख की रकम का गोलमाल, SDM को सौंपी जांच

बरेली, अमृत विचार। ग्राम समाज की भूमि के 337 यूकेलिप्टस पेड़ों की नीलामी में मिली 42 लाख रुपये की धनराशि का गोलमाल होने का मामला सामने आया है। मीरगंज तहसील प्रशासन पर गलत तरीके से धनराशि दूसरे खाते में डालने का आरोप लगाया गया है। इसमें ग्राम पंचायत फिरोजपुर की प्रधान शमा परवीन ने मंडलायुक्त के यहां लिखित शिकायत की। मामले का संज्ञान लेते हुए मंडलायुक्त ने एडीएम वित्त एवं राजस्व को जांच कराकर सात दिन में रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए हैं।

ये भी पढ़ें- बरेली: पांच दिन से गायब छात्र का नहीं लगा कोई सुराग, परिजनों को सता रही अनहोनी की आशंका

कमिश्नरी से चिट्ठी एडीएम कार्यालय पहुंची। एडीएम वित्त एवं राजस्व संतोष बहादुर सिंह ने मामले में मीरगंज एसडीएम को जांच सौंपी है। एसडीएम मीरगंज से कहा है कि प्रकरण की जांच करते हुए नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई करें। इसकी अविलंब आख्या भेजें। ग्राम पंचायत शमा परवीन ने 16 नवंबर को मंडलायुक्त से शिकायत की। जिसमें बताया कि ग्राम में ग्राम समाज की भूमि गाटा संख्या 1030111 आदि पर यूकेलिप्टस 337 पेड़ खड़े थे। जिनकी नीलामी तहसील प्रशासन ने 7 सितंबर को 42 लाख रुपये में कराई थी।

आरोप है कि नीलामी में मिली धनराशि तहसील प्रशासन ने ग्राम पंचायत के खाते में जमा न करके गलत तरीके से अन्य किसी खाते में जमा करा दी। ग्राम प्रधान ने धनराशि को ग्राम पंचायत के खाते में जमा कराने की मांग उठाई। पूर्व में यह मामला संपूर्ण समाधान दिवस में भी पहुंचा। जिसमें जांच हुई। तहसीलदार ने संपूर्ण समाधान दिवस पर हुई शिकायत पर आख्या भेजकर कहा था कि 41.50 लाख रुपये में नीलामी हुई थी। धनराशि तहसील समेकित ग्राम निधि मीरगंज के नाम से संचालित खाते में जमा कराई गई है।

ये भी पढ़ें- बरेली: एमजेपी रुहेलखण्ड विश्वविद्यालय कराएगा 47वां एथलेटिक्स मीट, 1 दिसंबर से होगा आगाज

Related Posts

Post Comment

Comment List