सेंसेक्स में लगातार आठवें दिन तेजी, निफ्टी में मामूली नुकसान

सेंसेक्स में लगातार आठवें दिन तेजी, निफ्टी में मामूली नुकसान

मुंबई। बीएसई सेंसेक्स में तेजी का सिलसिला मंगलवार को लगातार आठवें कारोबारी सत्र में भी जारी रहा और यह 94 अंक और चढ़ गया। हालांकि, वैश्विक बाजारों के मिले-जुले रुख के बीच एनएसई निफ्टी रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने के बाद मामूली नुकसान में रहा।

तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 94.05 अंक यानी 0.14 प्रतिशत की तेजी के साथ 67,221.13 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय यह 412.02 अंक तक उछल गया था। हालांकि, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में शुरुआती लाभ को गंवाते हुए मामूली 3.15 अंक यानी 0.02 प्रतिशत नुकसान के साथ 19,993.20 अंक पर बंद हुआ।

कारोबार के दौरान एक समय यह 114 अंक चढ़कर 20,110.35 अंक तक चला गया था। सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, लार्सन एंड टुब्रो, इन्फोसिस, अल्ट्राटेक सीमेंट, आईसीआईसीआई बैंक, नेस्ले, आईटीसी और सन फार्मा प्रमुख रूप से लाभ में रहे।

दूसरी तरफ, नुकसान में रहने वाले शेयरों में पावर ग्रिड, एनटीपीसी, टाटा मोटर्स, टाटा स्टील, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रिलायंस इंडस्ट्रीज शामिल हैं। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘शेयर बाजार में निराशा का स्तर बढ़ा है। इससे एहतियात के तौर पर मुनाफावसूली देखने को मिल रही है।

इसका कारण यह धारणा है कि शेयरों का मूल्यांकन काफी बढ़ गया है। ‘करेक्शन’ मझोली कंपनियों के शेयरों में देखने को मिल रहा है जबकि बड़ी कंपनियों में मजबूती देखी जा रही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अल्पकाल में निवेशक सतर्क रुख अपना सकते हैं लेकिन दीर्घकाल की बात की जाए तो घरेलू अर्थव्यवस्था में तेजी, कंपनियों की कमाई में उल्लेखनीय रूप से वृद्धि तथा घरेलू निवेश प्रतिरूप में बदलाव जारी रहने की उम्मीद है।

’’ बीएसई मिडकैप सूचकांक 4.02 प्रतिशत लुढ़का तथा स्मॉलकैप 2.96 प्रतिशत नीचे आया। एशियाई बाजारों में जापान का निक्की लाभ में जबकि दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कम्पोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में मिला-जुला रुख रहा।

अमेरिकी बाजार में सोमवार को तेजी रही। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) सोमवार को शुद्ध लिवाल रहे और उन्होंने 1,473.09 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.74 प्रतिशत चढ़कर 91.31 डॉलर प्रति बैरल रहा। 

ये भी पढ़ें - मणिपुरः सुप्रीम कोर्ट ने की कठोर कार्रवाई से सुरक्षा प्रदान, मामला पूर्व सैन्य अधिकारी और प्रोफेसर पर दर्ज FIR

Online Jobs Apply