सूरत में केमिकल फैक्ट्री में भीषण आग, सात कर्मचारियों के शव बरामद

सूरत में केमिकल फैक्ट्री में भीषण आग, सात कर्मचारियों के शव बरामद

सूरत (गुजरात)। गुजरात के सूरत शहर में रसायन निर्माण फैक्टरी में भीषण आग की घटना के एक दिन बाद बृहस्पतिवार को सुबह परिसर से, सात लापता कर्मचारियों के शव बरामद किए गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। 

सूरत के कलेक्टर आयुष ओक ने बताया कि सूरत के सचिन औद्योगिक क्षेत्र में स्थित रसायन निर्माण इकाई एथर इंडस्ट्रीज लिमिटेड में जिन सात लोगों के शव मिले हैं उनमें से एक कंपनी का कर्मचारी था जबकि अन्य छह अनुबंध पर काम करते थे। 

उन्होंने कहा, ‘‘फैक्टरी परिसर में तलाश अभियान के दौरान अधिकारियों को सात कर्मचारियों के शव मिले जो बुधवार को संयंत्र में आग लगने की घटना के बाद से लापता थे। घटना में संयंत्र जलकर नष्ट हो गया था। मृतकों की पहचान दिव्येश पटेल (कंपनी कर्मचारी), संतोष विश्वकर्मा, सनत कुमार मिश्रा, धर्मेंद्र कुमार, गणेश प्रसाद, सुनील कुमार और अभिषेक सिंह के तौर पर हुई है। 

कलेक्टर ने कहा कि घटना में घायल हुए 24 लोगों का वर्तमान में विभिन्न अस्पतालों में इलाज हो रहा है। सूरत के प्रभारी मुख्य दमकल अधिकारी बसंत पारेख ने इससे पहले बताया था कि संयंत्र में एक बड़े टैंक में रखे ज्वलनशील रसायन के रिसाव के कारण हुए विस्फोट के बाद मंगलवार देर रात करीब दो बजे रसायन संयंत्र में आग लग गई। घटनास्थल पर दमकल की कम से कम 15 गाड़ियों को भेजा गया था जिन्हें आग पर काबू पाने में करीब नौ घंटे का समय लगा। 

कंपनी ने 29 नवंबर को जारी और स्टॉक एक्सचेंज को दिए बयान में कहा, ‘‘...हम यह सूचित करते हैं कि मंगलवार देर रात करीब एक बजकर 50 मिनट पर कंपनी के प्लॉट नंबर 8203, जीआईडीसी सचिन, सूरत के निर्माण स्थल में आग लगने की घटना के बारे में बताया गया।’’ बयान में कहा गया है कि करीब 25 लोगों के घायल होने की खबर है। 

ये भी पढें- स्कूल भर्ती घोटाला : सीबीआई ने तृणमूल कांग्रेस के विधायक और पार्षदों के आवासों पर छापे मारे

ताजा समाचार

कासगंज: सांसद ने कछला गंगा घाट पर किया सह भोज का आयोजन, जनप्रतिनिधियों और कार्यकर्ताओं का लगा जमावाड़ा 
Kanpur: चकेरी एयरपोर्ट पर रात में भी होगी लैंडिंग? मर्चेंट चेंबर की ओर से रक्षा सचिव को लिखा गया पत्र, अनुमति का इंतजार...
बरेली: कचहरी पर दो दुकानों में चोरी, हजारों का सामान चोर लेकर हुए फरार
संकल्प पत्र में समाहित होगा विकसित भारत का जन सुझाव :सांसद 
गरीब को न्याय कहां मिलता है साहब! संपूर्ण समाधान दिवस पर पहुंचे फरियादियों ने बयां किया दर्द
सुलतानपुर: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पाक्सो कोर्ट में हुई डॉक्टर की गवाही, आरोपी के वकील के साथ हुई खूब जिरह!
Online Jobs Apply