जसपुर: ईंट भट्टे के चौकीदार की हत्या, भट्टा परिसर में गड्ढे से बरामद हुआ शव

जसपुर: ईंट भट्टे के चौकीदार की हत्या, भट्टा परिसर में गड्ढे से बरामद हुआ शव

जसपुर, अमृत विचार। ईंट भट्टे के चौकीदार की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। इतना ही नहीं हत्यारे ने हत्या के बाद शव भट्टा परिसर में ही एक गड्ढे में मिट्टी भरकर छुपा दिया। चौकीदार की निर्मम हत्या से परिजनों में कोहराम मचा है। 

कोतवाली क्षेत्र के गांव धर्मपुर स्थित फाइव स्टार ईंट भट्टे का चौकीदार गांव मंधोरा धामपुर बिजनौर, उत्तर प्रदेश निवासी हरपाल सिंह (50 वर्ष ) पुत्र उम्मेद सिंह शुक्रवार को भट्टे पर काम करने वाले लोगों को दिखाई नहीं दिया तो उन्हें चिंता हुई। आशंका हुई कि उसे कोई जंगली जानवर उठा कर ले गया।

उन्होंने इस मामले की सूचना भट्टा मालिक को दी। इस पर भट्टा मालिक मौके पर पहुंचे और उन्होंने और कर्मचारियों ने आसपास के खेतों में खड़ी गन्ने की फसल में उसकी काफी तलाश की। लेकिन उसका कहीं कोई पता नहीं चल पाया। वापस लौटने पर उन्हें भट्टा परिसर में एक गड्ढे के पास खून पड़ा दिखाई दिया और गड्ढे में पड़ी मिट्टी पर फावड़े के निशान लगे दिखाई दिए।

शक होने पर उन्होंने मिट्टी हटा कर देखी तो चौकीदार की लाश दिखाई पड़ी। इससे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। वहां लोगों की भीड़ जमा हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने गड्ढे से चौकीदार का शव बाहर निकाला। उसके शरीर पर धारदार हथियार के निशान पाए गए।

पुलिस ने उसके परिजनों को घटना की सूचना देकर छानबीन शुरू की। साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। चौकीदार की हत्या से उसके परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव को उसके परिजनों को सौंप दिया।

एक रिश्तेदार को हिरासत में लिया
जसपुर। एसएसआई अनिल जोशी ने घटना के संबंध में बताया कि पुलिस ने प्रारंभिक जांच में शक के आधार पर मृतक के एक रिश्तेदार को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। प्रथमदृष्टया उसी पर चौकीदार की हत्या किए जाने का शक हो रहा है। भट्टे पर काम करने वाले कर्मचारियों से भी घटना के संबंध में पूछताछ चल रही है।

पता चला कि गुरुवार की शाम समीपवर्ती गांव अंगदपुर के व्यक्ति को भट्टे पर ही चौकीदार के साथ देखा गया था। उसके बाद से चौकीदार लापता हो गया था। घटना का खुलासा करने के लिए मौके पर फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को मौके बुलाया गया है। जल्द ही घटना का खुलासा करने का प्रयास किया जा रहा है। मृतक हरपाल सिंह के परिजन तहरीर नहीं दे पाए हैं। इसके कारण रिपोर्ट दर्ज नहीं हो पाई। 

छह साल से भट्टे पर काम कर रहा था हरपाल
जसपुर। मृतक के परिजनों ने बताया कि वह पिछले करीब 6 साल से भट्टे पर चौकीदार का काम कर रहा था। भट्टे पर काम करने वाले लोगों ने बताया कि वह सीधा-सादा व मिलनसार व्यक्ति था। उसका किसी बात को लेकर कभी किसी से कोई विवाद नहीं हुआ था।

अभी नौकरी पाओ