बुधवार के दिन करें ये उपाय, घर-परिवार में आएंगी खुशियां, सभी समस्याओं से मिलेगा छुटकारा!

बुधवार के दिन करें ये उपाय, घर-परिवार में आएंगी खुशियां, सभी समस्याओं से मिलेगा छुटकारा!

23 नवंबर दोपहर बाद 3 बजकर 40 मिनट तक शोभन योग रहेगा। इस योग को बड़ा ही अच्छा माना जाता है।

23 नवंबर को मार्गशीर्ष कृष्ण पक्ष की चतुर्दर्शी तिथि और बुधवार का दिन है।  चतुर्दर्शी तिथि 23 नवंबर सुबह 6 बजकर 53 मिनट तक रहेगी, उसके बाद पंचमी तिथि लग जायेगी, जो अगले दिन भोर 4 बजकर 26 मिनट तक रहेगी। 23 नवंबर दोपहर बाद 3 बजकर 40 मिनट तक शोभन योग रहेगा। इस योग को बड़ा ही अच्छा माना जाता है। इस योग के दौरान शुरू की गई यात्रा मंगलमय और सुखद रहती है और मार्ग में किसी प्रकार की असुविधा नहीं होती है। 

अगर आप अपनी आर्थिक तरक्की की गति को भविष्य में निरंतर बनाए रखना चाहते हैं, तो इस दिन हल्दी की पांच साबुत गाठें और एक रूपये का सिक्का लेकर, एक पीले रंग के कपड़े में रखकर बांध दें। फिर उस कपड़े को अपने घर के मन्दिर में रखें और अपने गुरु या अपने ईष्ट देव का ध्यान करते हुए एक घी का दीपक जलाएं। जब दीपक जलते-जलते अपने आप बुझ जाए, तब उस हल्दी और एक रुपये का सिक्का बंधे पीले रंग के कपड़े को मन्दिर से उठाकर अपनी तिजोरी या अलमारी में रख लें। ऐसा करने से आपकी आर्थिक तरक्की की गति भविष्य में भी निरंतर बनी रहेगी। 

अगर आप इस दिन अपने किसी महत्वपूर्ण कार्य से बाहर जा रहे हैं या अपनी किसी बिजनेस मीटिंग के लिए जा रहे हैं, तो इस दिन केसर का तिलक लगाकर जाएं। अगर केसर उपलब्ध न हो तो हल्दी का तिलक मस्तक पर लगाकर जाएं।  ऐसा करने से आपको अपने महत्वपूर्ण कार्यों या बिजनेस मीटिंग में सफलता जरूर मिलेगी।

अगर आप अपनी बौद्धिक क्षमता में बढ़ोतरी करना चाहते हैं, तो इस दिन सुबह स्नान आदि के बाद, साफ कपड़े पहनकर देव गुरु बृहस्पति का ध्यान करते हुए उनके इस मंत्र का जाप करें। मंत्र है-‘ऊँ ऐं क्लीं बृहस्पतये नमः।'  इस मंत्र का 21 बार जाप करने से निश्चित रूप से आपकी बौद्धिक क्षमता में बढ़ोतरी होगी।

अगर आप अपने बिजनेस की बढ़ोतरी करना चाहते हैं, तो उसके लिए  इस दिन भगवान विष्णु को चन्दन का तिलक लगाएं। साथ ही भगवान विष्णु के सामने चन्दन की खुशबू वाली धूपबत्ती जलाएं और अपने बिजनेस की बढ़ोतरी के लिए प्रार्थना करें।  ऐसा करने से आपके बिजनेस में अपने आप बढ़ोतरी होने लगेगी।

अगर आपके दाम्पत्य जीवन में कुछ वैचारिक मतभेद चल रहे हैं, जिसकी वजह से अक्सर आपके और आपके जीवनसाथी के बीच तकरार होती रहती है, तो इस स्थिति से बाहर निकलने के लिए इस दिन दूध, चावल की खीर बनाएं और हो सके तो उसमें थोड़ा-सा केसर भी डाल दें। अब श्री विष्णु को इस खीर का भोगलगाएं। साथ ही इस मंत्र का जाप करें- ‘माधवाय नमः।’ ये उपाय करने से आपके दाम्पत्य जीवन में चल रहे वैचारिक मतभेद जल्द ही समाप्त होंगे।

अगर आपके परिवार के किसी सदस्य की सेहत कुछ दिनों से ठीक नहीं चल रही है तो उनके स्वास्थ्य की बेहतरी के लिए इस दिन बेसन से कोई मीठी चीज़ बनाएं। अब उसका भोग सबसे पहले भगवान को लगाएं। उसके बाद उस बचे हुए प्रसाद को छोटे बच्चों में बांट दें और बीमार व्यक्ति को भी थोड़ा-सा प्रसाद खाने के लिए दें। ऐसा करने से बीमार व्यक्ति की सेहत में जल्द ही सुधार होगा।

अगर आप अपने जीवन में समृद्धि पाना चाहते हैं, तो इस दिन आंखें बंद करके विकंकत के पेड़ का ध्यान करते हुए, उसे प्रणाम करें और विकंकत के पेड़ का पांच बार नाम लें। इसके बाद ध्यान में ही उसकी जड़ में पानी डालें और अपने जीवन में समृद्धि पाने के लिये प्रार्थना करें। ऐसा करने से आपके जीवन में समृद्धि बनी रहेगी। 

अगर आप अपने किसी शत्रु से परेशान हैं और उस पर विजय पाना चाहते हैं, तो अपने शत्रु पर विजय पाने के लिए इस दिन एक छोटा-सा पीले रंग का कपड़ा लें और साथ ही एक कटोरी में पानी की सहायता से थोड़ी-सी हल्दी घोल लें। अब उस पीले रंग के कपड़े पर घुली हुई हल्दी से अपने शत्रु का नाम लिखें और उस कपड़े को श्री विष्णु के मन्दिर में जाकर, भगवान के चरणों में रख दें। ऐसा करने से आपको जल्दी ही अपने शत्रु पर विजय प्राप्त होगी।

ये भी पढ़ें : विवाह पंचमी के दिन हुआ था राम-सीता का विवाह, लेकिन इस दिन नहीं होती शादियां

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement