कौन हैं असीम मुनीर? जो बनेंगे पाक के नए आर्मी चीफ, भारत विरोधी मुहिम से रहा है नाता, इमरान के हैं दुश्मन

कौन हैं असीम मुनीर? जो बनेंगे पाक के नए आर्मी चीफ, भारत विरोधी मुहिम से रहा है नाता, इमरान के हैं दुश्मन

कराची। पाकिस्तान की सूचना व प्रसारण मंत्री मरियम औरंगज़ेब ने गुरुवार को बताया कि प्रधानमंत्री शहबाज़ शरीफ ने लेफ्टिनेंट जनरल सैयद असीम मुनीर को देश का नया आर्मी चीफ नियुक्त किया है। मुनीर इससे पहले पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के महानिदेशक रह चुके हैं। वहीं, मौजूदा पाकिस्तानी आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा का कार्यकाल 29 नवंबर को खत्म होगा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने लेफ्टिनेंट जनरल साहिर शमशाद मिर्जा को ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ और लेफ्टिनेंट जनरल सैयद असीम मुनीर को थल सेनाध्यक्ष नियुक्त करने का फैसला किया है। इस वक़्त लेफ़्टिनेंट जनरल आसिम मुनीर पाकिस्तानी सेना में क्वार्टरमास्टर जनरल के तौर पर सेवा दे रहे हैं। दिलचस्प है कि उनका लेफ़्टिनेंट जनरल का कार्यकाल, जनरल बाजवा के रिटायरमेंट के दो दिन पहले ही 27 नवंबर को ख़त्म हो रहा है। आइए जानते हैं कौन हैं असीम मुनीर? 

 

कौन हैं असीम मुनीर? 
माना जा रहा है कि, जनरल आसिम मुनीर जनरल बाजवा के बेहद खास हैं और वह चाहते थे कि मुनीर ही सेना प्रमुख बने। अक्‍टूबर 2018 में मुनीर को बाजवा की सिफारिश पर ही इंटेलीजेंस एजेंसी आईएसआई का चीफ बनाया गया था। लेकिन सिर्फ आठ महीने बाद यानी मई 2019 में उन्‍हें इस पद से हटा दिया गया था। जनरल मुनीर ने ही इमरान खान की पत्‍नी बुशरा बीबी से जुड़े भ्रष्‍टाचार के बारे में बताया था। इन आरोपों के बाद ही इमरान ने जनरल मुनीर को उनके पद से हटा दिया था।

असीम 2018-2019 में 8 महीनों के लिए ISI चीफ रह चुके हैं। इमरान खान ने अपने करीबी फैज हमीद को ISI चीफ बना दिया था और गुजरांवाला कॉर्प्स कमांडर के तौर पर मुनीर का ट्रांसफर कर दिया था। असीम को 2018 में टू-स्टार जनरल के रैंक पर प्रमोट किया गया था, लेकिन उन्होंने इस पोस्ट को 2 महीने बाद जॉइन किया। लेफ्टिनेंट जनरल के तौर पर उनका 4 साल का कार्यकाल 27 नवंबर को खत्म होगा।

इमरान से दुश्‍मनी
पाकिस्‍तान के सीनियर जर्नलिस्‍ट नजम सेठी ने  जनरल जनरल मुनीर को उनके पद से क्‍यों हटाया गया, इसका खुलासा एक इंटरव्‍यू में किया था। उन्‍होंने बताया था कि जिस समय जनरल मुनीर, डीजी आईएसआई थे तो उस समय उन्‍होंने इमरान से कहा था कि पंजाब प्रांत के अंदर हालात बेहद खराब हैं। यहां पर उन्‍होंने, इमरान को सारी स्थिति के बारे में विस्‍तार से बताया था। ले. जनरल मुनीर ने पूर्व पीएम से कहा था कि अगर यहां पर नेतृत्‍व में परिवर्तन नहीं किया गया तो फिर सेना और सरकार के लिए परेशानियां पैदा हो सकती हैं।

एक मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुनीर के पाकिस्तान आर्मी चीफ बनने के बाद भारत से रिश्तों में कोई खास बदलाव नहीं आएगा, क्योंकि 14 फरवरी 2019 को हुए पुलवामा अटैक में मुनीर का ही हाथ था। जिस तरह से हमला हुआ था, उसमें मुनीर की छाप भी देखने को मिली थी। ये सुनियोजित हमला था, जिसे प्लानिंग और ट्रेनिंग के जरिए ही अंजाम दिया जा सकता था।

ये भी पढ़ें :  जनरल असीम मुनीर होंगे पाकिस्तान के नए आर्मी चीफ, कमर जावेद बाजवा की लेंगे जगह

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement