'क्यूएस एशिया वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2024' में आईआईटी खड़गपुर देश में पांचवें स्थान पर रहा

'क्यूएस एशिया वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2024' में आईआईटी खड़गपुर देश में पांचवें स्थान पर रहा

कोलकाता। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी)-खड़गपुर ने 2024 की 'क्यूएस एशिया वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग' में भारत में पांचवां और एशिया में 59वां स्थान हासिल किया है। संस्थान ने शनिवार को एक बयान में यह जानकारी दी।

बयान के मुताबिक, देश के पहले और सबसे बड़े आईआईटी संस्थान ने 54.5 अंकों के साथ 'क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग' के शीर्ष संस्थानों में अपनी जगह बनाई। भारत के संस्थानों की सूची में आईआईटी खड़गपुर सभी आईआईटी में चौथा संथान है जो भारतीय विज्ञान संस्थान के बाद पांचवें स्थान पर रहा। 

आईआईटी खड़गपुर ने अंतरराष्ट्रीय अनुसंधान नेटवर्क, प्रति संकाय अनुसंधान पत्र, नियोक्ता व शैक्षणिक प्रतिष्ठा और पीएचडी से जुड़े स्टाफ सदस्यों जैसे मापदंडों पर अच्छा प्रदर्शन किया है। क्वाक्वेरेली साइमंड्स (क्यूएस) की ‘2024 विश्व विश्वविद्यालय रैंकिंग: एशिया’ में कुल 857 विश्वविद्यालय शामिल किये गये हैं जिनमें से 148 विश्वविद्यालय भारत के हैं। इस रैंकिंग में एशिया के शीर्ष विश्वविद्यालयों को शामिल किया गया है। 

आईआईटी खड़गपुर के निदेशक प्रोफेसर वी. के. तिवारी ने क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2024 पर कहा, ''आईआईटी खड़गपुर ने 'आत्मनिर्भर भारत' की दिशा में योगदान देने के लिए उन्नत विनिर्माण प्रणालियों व परिवहन, सुरक्षा इंजीनियरिंग व विश्लेषण, गुणवत्ता व विश्वसनीयता, किफायती स्वास्थ्य देखभाल, कृषि व खाद्य पोषण और बेहतर बुनियादी ढांचा के साथ वैश्वीकरण के मानकों को उत्कृष्ट बनाने के देश के संकल्प को बरकरार रखा है।'' 

ये भी पढे़ं- MJPRU: दीक्षांत समारोह में दी जाएंगी 79 पदक और 148 उपाधि, टॉपर्स के लिए बनेगा सेल्फी प्वाइंट

 

Online Jobs Apply