गांधी परिवार को अपने ‘पापों’ की कीमत चुकानी होगी: ‘नेशनल हेराल्ड’ पर भाजपा का पलटवार 

गांधी परिवार को अपने ‘पापों’ की कीमत चुकानी होगी: ‘नेशनल हेराल्ड’ पर भाजपा का पलटवार 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने नेशनल हेराल्ड समाचार पत्र और इससे जुड़ी कपनियों की संपत्ति जब्त किए जाने की निंदा करने को लेकर बुधवार को कांग्रेस पर पलटवार किया और कहा कि ‘गांधी परिवार’ को अपने ‘पापों’ की कीमत चुकानी होगी।

यहां भाजपा मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने गांधी परिवार पर नेशनल हेराल्ड की संपत्तियों पर कब्जा करने का आरोप लगाया।

प्रकाशन का एक ऑनलाइन संस्करण, हालांकि उपलब्ध है। प्रसाद ने कांग्रेस से यह स्पष्ट करने को कहा कि बेईमानी और सार्वजनिक संपत्ति की लूट के खिलाफ की गई कार्रवाई को लोकतंत्र की अवहेलना कैसे कहा जा सकता है? प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा मंगलवार को नेशनल हेराल्ड की संपत्ति कुर्क किए जाने के बाद कांग्रेस ने इस कार्रवाई को ‘प्रतिशोध का तुच्छ हथकंडा’ करार दिया था और केंद्रीय जांच एजेंसी को भाजपा का ‘गठबंधन साझेदार’ बताया था।

कांग्रेस की यह टिप्पणी उस वक्त आई जब ईडी ने मंगलवार को कहा कि उसने कांग्रेस पार्टी द्वारा प्रवर्तित नेशनल हेराल्ड समाचारपत्र और इससे जुड़ी कंपनियों के खिलाफ धनशोधन की अपनी जांच के तहत करीब 752 करोड़ रुपये मूल्य की अचल संपत्ति और ‘इक्विटी’ हिस्सेदारी (शेयर) जब्त की है।

ईडी ने एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) और यंग इंडियन कंपनी के खिलाफ संपत्ति कुर्क करने का आदेश धनशोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत जारी किया था। नेशनल हेराल्ड की प्रकाशक एसोसिएटेड जर्नल लिमिटेड है और इसका स्वामित्व यंग इंडियन प्राइवेट लिमिटेड के पास है।

प्रसाद ने आरोप लगाया कि कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी और उनके बेटे राहुल गांधी ने इन बेशकीमती संपत्तियों का गबन किया क्योंकि इसके स्वामित्व वाली कंपनी के शेयर एक ऐसी कंपनी को हस्तांतरित कर दिए गए जहां दोनों का 76 प्रतिशत शेयरों पर नियंत्रण था।

उन्होंने दावा किया कि यह लोकतंत्र में शर्मनाक, नया निचला स्तर है। उन्होंने आरोप लगाया कि गांधी परिवार ने न केवल स्वतंत्रता आंदोलन का नेतृत्व करने की कांग्रेस की विरासत को हड़प लिया, बल्कि पार्टी से जुड़ी संपत्तियों को भी हड़प लिया। प्रसाद ने कहा कि दोनों कांग्रेस नेताओं ने आयकर विभाग सहित जांच एजेंसियों की कार्रवाई के खिलाफ न्यायपालिका का रुख किया था लेकिन उन्हें राहत नहीं मिली।

कांग्रेस ने दावा किया था कि ईडी की कार्रवाई भाजपा की हताशा का नतीजा है क्योंकि वह विधानसभा चुनाव के मौजूदा दौर में हार रही है। इस दावे को खारिज करते हुए प्रसाद ने कहा कि यह कांग्रेस है जो इन चुनावों में बुरी तरह पराजित होगी।

उन्होंने कहा कि नेशनल हेराल्ड मामले की जांच 2014 में मोदी सरकार के सत्ता में आने से पहले एक निजी शिकायत पर शुरू हुई थी। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी दोनों ही धोखाधड़ी और जालसाजी के आरोपों का सामना कर रहे हैं और फिलहाल जमानत पर हैं। प्रसाद ने कहा, ‘‘आपको लगता है कि आप लूटते रहें लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए।

परिवार को अपने पापों, भ्रष्टाचार और सत्ता के दुरुपयोग की कीमत चुकानी होगी।’’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी जांच एजेंसियों ने 2002 के गुजरात दंगों से जुड़े 'प्रायोजित' मामलों में पूछताछ की थी तब वह मुख्यमंत्री थे लेकिन भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन नहीं किया। भाजपा नेता ने कहा कि वह (मोदी) बेदाग निकले।

उन्होंने सोनिया गांधी और राहुल पर निशाना साधते हुए कहा कि जब कांग्रेस नेताओं को पूछताछ के लिए बुलाया जाता है तो उसके नेता धरना प्रदर्शन करते हैं। भाजपा द्वारा ‘आम आदमी पार्टी’ के नेताओं को निशाना बनाए जाने के ‘आप’ के दावे के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि न्यायपालिका ने जांच एजेंसियों द्वारा की गई कार्रवाई की जांच की है।

उन्होंने कहा कि अगर आप नेताओं को लगता है कि वे बहुत शोर मचाएंगे और कार्यवाही रुक जाएगी तो वे गलत हैं। आबकारी नीति से जुड़े भ्रष्टाचार के मामले में आप के कई नेता फिलहाल सलाखों के पीछे हैं।

ये भी पढे़ं- मथुरा में संत मीराबाई जन्मोत्सव' में हिस्सा लेंगे पीएम मोदी, सांस्कृतिक कार्यक्रम में भी होंगे शामिल

ताजा समाचार

बरेली: आबकारी सिपाही युवती पर शादी करने का बना रहा दबाव, कहा- बदनाम कर दूंगा
पीलीभीत: आज से 76 केंद्रों पर होंगी यूपी बोर्ड की परीक्षा, इंतजाम सख्त... तैयारी पूरी
बोर्ड परीक्षा: बच्चों में बढ़ रहा परफॉर्मेंस एंग्जाइटी का खतरा, परिजन परेशान...करें ये काम
बरेली: आत्महत्या से पहले बनाई वीडियो लेकिन जांच में नहीं जिक्र, पुलिस पर मिलीभगत का आरोप...जानिए मामला
बरेली: भाजपा में शामिल हुए सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष जफर बेग, डिप्टी सीएम की मौजूदगी में ली सदस्यता
आंवला के किसान ट्रैक्टरों के साथ पहुंचे कलेक्ट्रेट, प्रदर्शन कर की नारेबाजी